Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Feb 2023 · 1 min read

💐अज्ञात के प्रति-18💐

18
एक शिक्षित में भी मूर्खता नृत्य करती है।
-अभिषेक: पाराशरः ‘आनन्द’

Language: Hindi
143 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Follow our official WhatsApp Channel to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
यह दिल
यह दिल
Anamika Singh
JNU CAMPUS
JNU CAMPUS
मनोज शर्मा
उठो पुत्र लिख दो पैगाम
उठो पुत्र लिख दो पैगाम
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
पंडित जी
पंडित जी
आकांक्षा राय
धुएं से धुआं हुई हैं अब जिंदगी
धुएं से धुआं हुई हैं अब जिंदगी
Ram Krishan Rastogi
पायल बोले छनन छनन - देवी गीत
पायल बोले छनन छनन - देवी गीत
Ashish Kumar
मालूम है मुझे वो मिलेगा नहीं,
मालूम है मुझे वो मिलेगा नहीं,
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
शुक्र ए खुदा
शुक्र ए खुदा
shabina. Naaz
💐💐प्रेम की राह पर-18💐💐
💐💐प्रेम की राह पर-18💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
हरि लापता है, ख़ुदा लापता है
हरि लापता है, ख़ुदा लापता है
Artist Sudhir Singh (सुधीरा)
न गिराओ हवाओं मुझे , औकाद में रहो
न गिराओ हवाओं मुझे , औकाद में रहो
कवि दीपक बवेजा
चंद्रशेखर प्रसाद 'चंदू'
चंद्रशेखर प्रसाद 'चंदू'
Shekhar Chandra Mitra
💐खामोश जुबां 💐
💐खामोश जुबां 💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
■ धर्म चिंतन...【समरसता】
■ धर्म चिंतन...【समरसता】
*Author प्रणय प्रभात*
झाड़ा-झपटा
झाड़ा-झपटा
विनोद सिल्ला
भ्रातृ चालीसा....रक्षा बंधन के पावन पर्व पर
भ्रातृ चालीसा....रक्षा बंधन के पावन पर्व पर
डॉ.सीमा अग्रवाल
चलो माना तुम्हें कष्ट है, वो मस्त है ।
चलो माना तुम्हें कष्ट है, वो मस्त है ।
Dr. Man Mohan Krishna
मुरली कि धुन
मुरली कि धुन
Anil chobisa
*रिश्ते*
*रिश्ते*
Dushyant Kumar
संस्कारी नाति (#नेपाली_लघुकथा)
संस्कारी नाति (#नेपाली_लघुकथा)
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
जय जय नंदलाल की ..जय जय लड्डू गोपाल की
जय जय नंदलाल की ..जय जय लड्डू गोपाल की"
Harminder Kaur
इश्क खूब कर गए हो।
इश्क खूब कर गए हो।
Taj Mohammad
हो गई जब खत्म अपनी जिंदगी की दास्तां..
हो गई जब खत्म अपनी जिंदगी की दास्तां..
Vishal babu (vishu)
श्याम घनाक्षरी
श्याम घनाक्षरी
सूर्यकांत द्विवेदी
Ghazal
Ghazal
shahab uddin shah kannauji
✍️दो पंक्तिया✍️
✍️दो पंक्तिया✍️
'अशांत' शेखर
शायरी
शायरी
श्याम सिंह बिष्ट
तेरा हर एक पल
तेरा हर एक पल
Dr fauzia Naseem shad
ब्रह्मेश्वर मुखिया / MUSAFIR BAITHA
ब्रह्मेश्वर मुखिया / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
गरमी का वरदान है ,फल तरबूज महान (कुंडलिया)
गरमी का वरदान है ,फल तरबूज महान (कुंडलिया)
Ravi Prakash
Loading...