Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings

भारत रहो विजयी सदा

छंद-गीता

2212 2212 2212 221

भारत रहो विजयी सदा दिल में इहे अरमान।
फहरे तिरंगा विश्व में दुनिया करे सम्मान।
जय हिन्द जय, भारत अजय, दुश्मन करे जयकार।
सागर शिखर अम्बर धरा पूजा करे संसार।

उत्तर हिमालय और दक्षिण सिंधु शीतल नीर।
भारत हई जननी सदा पैदा करेली वीर।
पानी अलग बानी अलग बा भेष-भूषा भिन्न।
पर देश खातिर प्रेम दुश्मन कर न पावे छिन्न।

गांधी भगत सुखदेव राणा और अब्दुल वीर।
आजाद अउरी बोस जे सहलन न माँ के पीर।
मारल गइल, फांसी भइल, हारल न माँ के लाल।
अंतिम समय जय हिन्द के नारा रहल हर हाल।

पैंसठ बहत्तर युद्ध तऽ करगिल कबो गलवान।
माटी मिला दिहलें सदा तब हिन्द के बलवान।
चिंता न कइलन जान के, भइलन हवें कुर्बान।
सरहद क रखवाली करत, दिहलन हँ आपन जान।

(स्वरचित मौलिक)
#सन्तोष_कुमार_विश्वकर्मा_सूर्य’
तुर्कपट्टी, देवरिया, (उ.प्र.)
☎️7379598464

142 Views
You may also like:
दीवार में दरार
VINOD KUMAR CHAUHAN
वृक्ष थे छायादार पिताजी
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
फीका त्यौहार
पाण्डेय चिदानन्द
'फूल और व्यक्ति'
Vishnu Prasad 'panchotiya'
✍️यूँही मैं क्यूँ हारता नहीं✍️
'अशांत' शेखर
आई राखी
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
विचार
साहित्य लेखन- एहसास और जज़्बात
"खुद की तलाश"
Ajit Kumar "Karn"
*!* "पिता" के चरणों को नमन *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
"मेरे पिता"
vikkychandel90 विक्की चंदेल (साहिब)
ग़ज़ल / (हिन्दी)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
'बाबूजी' एक पिता
पंकज कुमार कर्ण
पापा आपकी बहुत याद आती है !
Kuldeep mishra (KD)
मौन में गूंजते शब्द
Manisha Manjari
बेटियां
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
"याद आओगे"
Ajit Kumar "Karn"
मांँ की लालटेन
श्री रमण 'श्रीपद्'
इस दर्द को यदि भूला दिया, तो शब्द कहाँ से...
Manisha Manjari
अब और नहीं सोचो
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
तुम साथ अगर देते नाकाम नहीं होता
Dr Archana Gupta
कमर तोड़ता करधन
शेख़ जाफ़र खान
पिता अब बुढाने लगे है
n_upadhye
ठोकर खाया हूँ
Anamika Singh
Forest Queen 'The Waterfall'
Buddha Prakash
पितृ वंदना
मनोज कर्ण
हे तात ! कहा तुम चले गए...
मनोज कर्ण
पिता का सपना
श्री रमण 'श्रीपद्'
जय जय भारत देश महान......
Buddha Prakash
बरसात की झड़ी ।
Buddha Prakash
"शौर्यम..दक्षम..युध्धेय, बलिदान परम धर्मा" अर्थात- बहादुरी वह है जो आपको...
Lohit Tamta
Loading...