Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings

दुखवा हजारो

दुखवा हजारो
■■■■■■■■■■■■■
एके गो जीनिगिया हे राम
दुखवा सहेला हजारो
नाहीं मिले तनिको आराम
दुखवा सहेला हजारो

जबसे जनम होला दुखवा सतावे
देखे एगो सुखवा त काटे बदे धावे
एगो नाहीं बीपत तमाम-
दुखवा सहेला हजारो
नाहीं…………..दुखवा…………

एगो साथ छोड़े एगो आ के पजिआवे
फाटि जा करेजा दिन अइसन देखावे
किस्मत प कइसन लगाम-
दुखवा सहेला हजारो
नाहीं…………..दुखवा…………

दुनिया में केकर नइखे दुखवा से नाता
अइलें जनम लिहलें रोवलें विधाता
मनई सुनर भगिया खाम-
दुखवा सहेला हजारो
नाहीं…………..दुखवा…………
एके गो………..दुखवा…………

– आकाश महेशपुरी

1 Like · 165 Views
You may also like:
कोई एहसास है शायद
Dr fauzia Naseem shad
जिन्दगी का जमूरा
Anamika Singh
ख़्वाब सारे तो
Dr fauzia Naseem shad
✍️पढ़ रही हूं ✍️
Vaishnavi Gupta
पितृ स्तुति
दुष्यन्त 'बाबा'
जब चलती पुरवइया बयार
श्री रमण 'श्रीपद्'
हो मन में लगन
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
उतरते जेठ की तपन / (गर्मी का नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
सिद्धार्थ से वह 'बुद्ध' बने...
Buddha Prakash
मां की महानता
Satpallm1978 Chauhan
किरदार
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
इंसानियत का एहसास भी
Dr fauzia Naseem shad
कुछ दिन की है बात ,सभी जन घर में रह...
Pt. Brajesh Kumar Nayak
चराग़ों को जलाने से
Shivkumar Bilagrami
"कुछ तुम बदलो कुछ हम बदलें"
Ajit Kumar "Karn"
बरसात की छतरी
Buddha Prakash
पिता के चरणों को नमन ।
Buddha Prakash
श्रम पिता का समाया
शेख़ जाफ़र खान
मेरी तकदीर मेँ
Dr fauzia Naseem shad
आज अपना सुधार लो
Anamika Singh
मेरा गांव
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
*!* "पिता" के चरणों को नमन *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
"समय का पहिया"
Ajit Kumar "Karn"
पहनते है चरण पादुकाएं ।
Buddha Prakash
एसजेवीएन - बढ़ते कदम
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
दर्द लफ़्ज़ों में लिख के रोये हैं
Dr fauzia Naseem shad
सृजन कर्ता है पिता।
Taj Mohammad
मर्द को भी दर्द होता है
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
हमारे बाबू जी (पिता जी)
Ramesh Adheer
रावण - विभीषण संवाद (मेरी कल्पना)
Anamika Singh
Loading...