Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings

दलित उत्पीड़न

ये छुआछूत-ये ऊंच-नीच
ये भेदभाव-ये जात-पात!
क्या भगतसिंह ने देखा था
ऐसे ही भारत का ख्वाब!!
दुनिया जब पूछती हमसे
झुक जाता है सिर शर्म से!
दलितों के ख़िलाफ़ देश में
यह क्या हो रहा है आज!!
Shekhar Chandra Mitra
#AmbedkarVision
#EkAurInquilab

282 Views
You may also like:
✍️कलम ही काफी है ✍️
Vaishnavi Gupta
लाचार बूढ़ा बाप
jaswant Lakhara
तुम हमें तन्हा कर गए
Anamika Singh
तू तो नहीं
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
"रक्षाबंधन पर्व"
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
इश्क
Anamika Singh
दिल में भी इत्मिनान रक्खेंगे ।
Dr fauzia Naseem shad
उसे देख खिल जातीं कलियांँ
श्री रमण 'श्रीपद्'
सोच तेरी हो
Dr fauzia Naseem shad
✍️आशिकों के मेले है ✍️
Vaishnavi Gupta
एक कतरा मोहब्बत
श्री रमण 'श्रीपद्'
हर एक रिश्ता निभाता पिता है –गीतिका
रकमिश सुल्तानपुरी
धरती की अंगड़ाई
श्री रमण 'श्रीपद्'
कोई हमदर्द हो गरीबी का
Dr fauzia Naseem shad
मृत्यु या साजिश...?
मनोज कर्ण
नफरत की राजनीति...
मनोज कर्ण
काश....! तू मौन ही रहता....
Dr. Pratibha Mahi
✍️स्कूल टाइम ✍️
Vaishnavi Gupta
"भोर"
Ajit Kumar "Karn"
Green Trees
Buddha Prakash
मेरी तकदीर मेँ
Dr fauzia Naseem shad
"चरित्र और चाय"
मनोज कर्ण
"बदलाव की बयार"
Ajit Kumar "Karn"
रेलगाड़ी- ट्रेनगाड़ी
Buddha Prakash
.✍️वो थे इसीलिये हम है...✍️
'अशांत' शेखर
विचार
साहित्य लेखन- एहसास और जज़्बात
बरसात की छतरी
Buddha Prakash
जागो राजू, जागो...
मनोज कर्ण
"अष्टांग योग"
पंकज कुमार कर्ण
जिन्दगी का जमूरा
Anamika Singh
Loading...