#29 Trending Author

कहाँ लोग सुनेला

केहू के दरद आज कहाँ लोग सुनेला,
जइसे न दवाई के बड़ा रोग सुनेला,
किस्मत न अगर साथ रहे हाय इहाँ तऽ-
ना योग सुने यार न आयोग सुनेला।

– आकाश महेशपुरी
दिनांक- 18/11/2021
~~~~~~~~~~~~~~~~~
मापनी- 221 1221 1221 122

87 Views
You may also like:
🥗फीका 💦 त्यौहार💥 (नाट्य रूपांतरण)
पाण्डेय चिदानन्द
बहुआयामी वात्सल्य दोहे
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
ऐ जिंदगी।
Taj Mohammad
बुलन्द अशआर
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
💐💐प्रेम की राह पर-15💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
नूर
Alok Saxena
ख़ूब समझते हैं ghazal by Vinit Singh Shayar
Vinit Singh
प्रयास
Dr.sima
बेकार ही रंग लिए।
Taj Mohammad
माँ की परिभाषा मैं दूँ कैसे?
Jyoti Khari
इन नजरों के वार से बचना है।
Taj Mohammad
जादूगर......
Vaishnavi Gupta
कन्या रूपी माँ अम्बे
Kanchan Khanna
ऐ वतन!
Anamika Singh
ये कैसा बेटी बाप का रिश्ता है?
Taj Mohammad
जहां चाह वहां राह
ओनिका सेतिया 'अनु '
वेलेंटाइन स्पेशल (5)
N.ksahu0007@writer
सुन ज़िन्दगी!
Shailendra Aseem
💐💐प्रेम की राह पर-19💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
【28】 *!* अखरेगी गैर - जिम्मेदारी *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
पुत्रवधु
Vikas Sharma'Shivaaya'
जीत-हार में भेद ना,
Pt. Brajesh Kumar Nayak
साँप की हँसी होती कैसी
AJAY AMITABH SUMAN
आकर मेरे ख्वाबों में, पर वे कहते कुछ नहीं
Ram Krishan Rastogi
अहसास
Vikas Sharma'Shivaaya'
तू एक बार लडका बनकर देख
Abhishek Upadhyay
मेरा पेड़
उमेश बैरवा
कुछ नहीं
सिद्धार्थ गोरखपुरी
"ज़िंदगी अगर किताब होती"
पंकज कुमार "कर्ण"
मैं भारत हूँ
Dr. Sunita Singh
Loading...