Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Settings

कन्हैया कुमार

तू जीअलअ तअ का जीअलअ!
तू मुअलअ तअ का मुअलअ!!
जब देश के बहुते ज़रूरत रहे
तू तबे आपन मुंह सीअलअ!!
Shekhar Chandra Mitra
#TheLostLeader
#KanhaiyaKumar

132 Views
You may also like:
बेचारी ये जनता
शेख़ जाफ़र खान
रात तन्हा सी
Dr fauzia Naseem shad
इश्क कोई बुरी बात नहीं
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
यादों की बारिश का कोई
Dr fauzia Naseem shad
परिवाद झगड़े
ईश्वर दयाल गोस्वामी
जिन्दगी का सफर
Anamika Singh
दिल में रब का अगर
Dr fauzia Naseem shad
पिता:सम्पूर्ण ब्रह्मांड
साहित्य लेखन- एहसास और जज़्बात
बुन रही सपने रसीले / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
फेसबुक की दुनिया
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
पिता
नवीन जोशी 'नवल'
गाँव की साँझ / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
रबीन्द्रनाथ टैगोर पर तीन मुक्तक
Anamika Singh
चराग़ों को जलाने से
Shivkumar Bilagrami
पितृ स्वरूपा,हे विधाता..!
मनोज कर्ण
पिता
Shailendra Aseem
बुआ आई
राजेश 'ललित'
आसान नहीं होता है पिता बन पाना
Poetry By Satendra
क्या मेरी कलाई सूनी रहेगी ?
Kumar Anu Ojha
फूल और कली के बीच का संवाद (हास्य व्यंग्य)
Anamika Singh
पहाड़ों की रानी शिमला
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
ऐ मां वो गुज़रा जमाना याद आता है।
Abhishek Pandey Abhi
न जाने क्यों
Dr fauzia Naseem shad
हमसे न अब करो
Dr fauzia Naseem shad
पापा जी
सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर’
✍️गुरु ✍️
Vaishnavi Gupta
पहचान...
मनोज कर्ण
पिता
Buddha Prakash
सो गया है आदमी
कुमार अविनाश केसर
यही तो इश्क है पगले
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
Loading...