Nov 22, 2021 · 1 min read

“कनियाक प्रतीक्षा “

डॉ लक्ष्मण झा”परिमल ”
=============
मन मे आभास भेल ,
दिन मास बीति गेल ,
प्रियतम जे छथि दूर ,
अऔताह एहि बेर घुरि !!
सब दिन स्नान करि,
नव -नव परिधान करि,
झामर सन भेल छी,
परंच एहिबेर हमरा ,
मन मे आभास भेल
दिन मास बीति गेल ,
प्रियतम जे छथि दूर ,
अऔताह एहि बेर घुरि !!
काजर केर रंग बना ,
बोरि- बोरि नोर मे,
लिखी -लिखी पांति ,
थाकि सन गेल छी,
तइयो आभास भेल ,
दिन मास बीति गेल ,
प्रियतम जे छथि दूर ,
अऔताह एहि बेर घुरि !!
देहो निस्तेज भेल ,
यौवनक परिताप मे,
राशि -राशि रंग सखि,
होरी मे खेलाइत अछि ,
नव -नव परिधान मे,
हमरा त जीवन मे,
भरि देलहुं बिरहक नोर
कतबो दूर तकैत छी,
देखैत छी नहि छोर !!
मुदा आइ कुचरैइत अछि
बेर -बेर कौआ ,
हृदयक तार -तार ,
गुंजित भय बोलि रहल ,
तें मन मे आभास भेल ,
दिन मास बीति गेल ,
प्रियतम जे छथि दूर ,
अऔताह एहि बेर घुरि !!
==============
डॉ लक्ष्मण झा “परिमल ”
साउंड हेल्थ क्लिनिक
डॉक्टर’स लेन
दुमका

1 Like · 2 Comments · 113 Views
You may also like:
इंतजार मत करना
Rakesh Pathak Kathara
विद्या पर दोहे
Dr. Sunita Singh
हर ख्वाहिश।
Taj Mohammad
ख्वाब
Swami Ganganiya
पापा को मैं पास में पाऊँ
Dr. Pratibha Mahi
नयी सुबह फिर आएगी...
मनोज कर्ण
बहन का जन्मदिन
Khushboo Khatoon
मजदूर हूॅं साहब
Deepak Kohli
ना वो हवा ना वो पानी है अब
VINOD KUMAR CHAUHAN
अंजान बन जाते हैं।
Taj Mohammad
बेटियाँ
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
इंसाफ हो गया है।
Taj Mohammad
ये ख्वाब न होते तो क्या होता?
सिद्धार्थ गोरखपुरी
पापा
सेजल गोस्वामी
शिव शम्भु
Anamika Singh
आपातकाल
Shriyansh Gupta
भगवान सुनता क्यों नहीं ?
ओनिका सेतिया 'अनु '
हिंसा की आग 🔥
मनोज कर्ण
मुझको ये जीवन जीना है
Saraswati Bajpai
💐नव ऊर्जा संचार💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
परीक्षा को समझो उत्सव समान
ओनिका सेतिया 'अनु '
"जीवन"
Archana Shukla "Abhidha"
An abeyance
Aditya Prakash
कवि का परिचय( पं बृजेश कुमार नायक का परिचय)
Pt. Brajesh Kumar Nayak
मैं परछाइयों की भी कद्र करता हूं
VINOD KUMAR CHAUHAN
दिल की आरजू.....
Dr. Alpa H.
गाँव के रंग में
सिद्धार्थ गोरखपुरी
💐💐प्रेम की राह पर-16💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
"ईद"
Lohit Tamta
इंसान जीवन को अब ना जीता है।
Taj Mohammad
Loading...