#23 Trending Author
Sep 23, 2021 · 1 min read

इस्कूल जाइ छि हम

स्कूल जाइत छि हम

झोड़ा में कॉपी किताब नेने
स्कूल बैग में टिफिन रखने
कूदैत फंगैत हँसैत गबैत
स्कूल जाइत छि हम.

टेम टेम पर पढ़ब-लिखब
अ आ आई हम सीखब
पैरे पैरे, स्कूल गाड़ी मे बैसि
हमहूँ आई स्कूल जाएब.

अपने मने कहियो भिंसरे उठब
सभ सं पहिने मुहँ हाथ धोअब
भूख लागत ता जलखै करब
फेर कनि कल पढ़ै लेल बैसब.

इस्कूल के घंटी हमरा शोर पारै
मास्टरजी कतेक नीक खिस्सा सुनाबैथ
नहा सोना के छि हम तैयार
मम्मी डैडी हमरा स्कूल द आबै.

किताब मे कतेक नीक डाँरी पारल
सीलेट भट्ठा पर लिखब नीक लागल
देखि देखि हम डाँरी परलौहं
रंग भरल स्केच केहेन हँसी लागल.

मास्टरजी हमरा कान मे कहलैन
पढ़ बौआ अ आ, सी डी ई
आई हहूँ अक्षर सिखलौहं
हँसी लागल केहेन खी खी खी

आई कतेक लोक इस्कूल एलै
धिया-पूता सभ हँसले-कनलै
सभ मिली फेर पढ़ै लगलै
मास्टरजी के कतेक नीक लगलै.

इस्कूल मे नबका ज्ञान सीखब
पढहब-लिखब आ खेलब-धूपब
दोस महिम संग सलाह आ झगड़ा
कतेक नीक किताबी ककहरा.

जखैन जेहेन नीक लागल
फेर खेलेबो धूपबो करैत छि हम
अपने मने आ की होमवर्क बनने
इस्कूल जाइत छि हम.

कवि- किशन कारीगर
(कॉपीराइट@ सर्वाधिकार सुरक्षित).

1 Like · 357 Views
You may also like:
हाइकु__ पिता
Manu Vashistha
"हमारी मातृभाषा हिन्दी"
Prabhudayal Raniwal
खाली मन से लिखी गई कविता क्या होगी
Sadanand Kumar
दोहा छंद- पिता
रेखा कापसे
निद्रा
Vikas Sharma'Shivaaya'
हाय गर्मी!
Manoj Kumar Sain
पिता
Saraswati Bajpai
फिर कभी तुम्हें मैं चाहकर देखूंगा.............
Nasib Sabharwal
खिला प्रसून।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
हायकु मुक्तक-पिता
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
युद्ध सिर्फ प्रश्न खड़ा करता है [भाग४]
Anamika Singh
🥗फीका 💦 त्यौहार💥 (नाट्य रूपांतरण)
पाण्डेय चिदानन्द
हवाओं को क्या पता
Anuj yadav
हे परम पिता परमेश्वर, जग को बनाने वाले
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
अब सुप्त पड़ी मन की मुरली, यह जीवन मध्य फँसा...
संजीव शुक्ल 'सचिन'
क्या देखें हम...
सूर्यकांत द्विवेदी
हम पे सितम था।
Taj Mohammad
"शौर्यम..दक्षम..युध्धेय, बलिदान परम धर्मा" अर्थात- बहादुरी वह है जो आपको...
Lohit Tamta
माँ तेरी जैसी कोई नही।
Anamika Singh
एक पल,विविध आयाम..!
मनोज कर्ण
किस राह के हो अनुरागी
AJAY AMITABH SUMAN
ये माला के जंगल
Rita Singh
बूँद-बूँद को तरसा गाँव
ईश्वर दयाल गोस्वामी
दिल की ख्वाहिशें।
Taj Mohammad
🍀🌺प्रेम की राह पर-42🌺🍀
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
अभी तुम करलो मनमानियां।
Taj Mohammad
हे विधाता शरण तेरी
Saraswati Bajpai
बेबसी
Varsha Chaurasiya
अंदाज़।
Taj Mohammad
बुध्द गीत
Buddha Prakash
Loading...