Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
17 Mar 2023 · 1 min read

💐Prodigy Love-42💐

Oh Dear!
You live your life with peace.
Peace, actually,you do not explore.
It is in you.
Let come in it’s contact.
It’s contact will make you ocean.
Yes, you reach this ocean.
Pl take complete breathe by navel.
Calmly, slowly.
Your journey is beginning.
Be careful.
Stand within.
Laugh within.
Weep within.
Smile within.
This journey is not tired.
It may be possible.
You can’t complete this journey.
Because,you have chosen wrong.
Wait.True love prevail.
Pay attention.
Voice of SOUL.
Calm.
And true love.
What are you alone?
Oh Dear!
©® Abhishek Parashar “Aanand”

Language: English
45 Views
Join our official announcements group on Whatsapp & get all the major updates from Sahityapedia directly on Whatsapp.
You may also like:
जिन्हें ज़लील हो कर कुछ हासिल करने की चाहत होती है
जिन्हें ज़लील हो कर कुछ हासिल करने की चाहत होती है
*Author प्रणय प्रभात*
राम वनवास
राम वनवास
Dhirendra Panchal
You cannot find me in someone else
You cannot find me in someone else
Sakshi Tripathi
माँ तेरा ना होना
माँ तेरा ना होना
shivam kumar mishra
फितरत
फितरत
umesh mehra
बुरा समय था
बुरा समय था
Swami Ganganiya
💐प्रेम कौतुक- 292💐
💐प्रेम कौतुक- 292💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
तुम्हारे  रंग  में  हम  खुद  को  रंग  डालेंगे
तुम्हारे रंग में हम खुद को रंग डालेंगे
shabina. Naaz
मन के झरोखों में छिपा के रखा है,
मन के झरोखों में छिपा के रखा है,
अमित मिश्र
कर्ज का बिल
कर्ज का बिल
Buddha Prakash
#drarunkumarshastriblogger
#drarunkumarshastriblogger
DR ARUN KUMAR SHASTRI
जाति है कि जाती नहीं
जाति है कि जाती नहीं
Shekhar Chandra Mitra
अपनी अपनी मंजिलें हैं
अपनी अपनी मंजिलें हैं
Surinder blackpen
शादी शुदा कुंवारा (हास्य व्यंग)
शादी शुदा कुंवारा (हास्य व्यंग)
Ram Krishan Rastogi
उसको भी प्यार की ज़रूरत है
उसको भी प्यार की ज़रूरत है
Aadarsh Dubey
जिंदगी उधेड़बुन का नाम नहीं है
जिंदगी उधेड़बुन का नाम नहीं है
कवि दीपक बवेजा
मंजिले तड़प रहीं, मिलने को ए सिपाही
मंजिले तड़प रहीं, मिलने को ए सिपाही
Er.Navaneet R Shandily
प्यार हो जाय तो तकदीर बना देता है।
प्यार हो जाय तो तकदीर बना देता है।
Satish Srijan
अमृत महोत्सव
अमृत महोत्सव
Mukesh Jeevanand
*बुरे फँसे नुकती के लड्डू की तारीफ कर के( हास्य व्यंग्य )*
*बुरे फँसे नुकती के लड्डू की तारीफ कर के( हास्य व्यंग्य )*
Ravi Prakash
Which have the power to take rebirth like the phoenix, whose power no one can ever match.
Which have the power to take rebirth like the phoenix, whose power no one can ever match.
Manisha Manjari
*हम पर अत्याचार क्यों?*
*हम पर अत्याचार क्यों?*
Dushyant Kumar
श्रद्धा के सुमन ले के आया तेरे चरणों में
श्रद्धा के सुमन ले के आया तेरे चरणों में
Prabhu Nath Chaturvedi
"दहलीज"
Ekta chitrangini
चेहरे की मुस्कान छीनी किसी ने किसी ने से आंसू गिराए हैं
चेहरे की मुस्कान छीनी किसी ने किसी ने से आंसू गिराए हैं
Anand.sharma
आँखों से भी मतांतर का एहसास होता है , पास रहकर भी विभेदों का
आँखों से भी मतांतर का एहसास होता है , पास रहकर भी विभेदों का
DrLakshman Jha Parimal
"वर्तमान"
Dr. Kishan tandon kranti
कुछ तो याद होगा
कुछ तो याद होगा
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
चंद्र ग्रहण के बाद ही, बदलेगी तस्वीर
चंद्र ग्रहण के बाद ही, बदलेगी तस्वीर
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
राही
राही
RAKESH RAKESH
Loading...