Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Jan 2023 · 1 min read

💐💐मेरे हिस्से में………💐💐

##मणिकर्णिका##
##अभी तुम्हारी देह वृन्दावन के योग्य नहीं है##
##मणिकर्णिका ही जाने का —………..,##
##क्यों बोनी,ज़्यादा सुन्दर है, कै##
##अरे कोई न कमेंट कर रहा भौंदू##
##हाँ हाँ रूप लटक रहे हो तो कमेंट कर दें”##
##कोई न कर रहा##
##स्त्री के साथ बहुत मर्यादित हूँ##
##परन्तु तुम कितना शिक्षित हो##
##फट्टू यह तो पता लग गया##
##मूर्ख##
##कोटेक महिन्द्रा के मैसेज तो ऐसे भेजती थी जैसे यही हो जी.एम उसकी##फट्टू

धोखा तुम्हारे हिस्से का है,
मेरे हिस्से में वफ़ा ही है,
धोखा तुम्हारे हिस्से का है,
मेरे हिस्से में वफ़ा ही है,
ख़ुश-गुमान हूँ देखूँगा मुस्कुराऊंगा,
ग़र हर जगह तुम्हें ही पाऊँगा,
तय करो ख़ुद की गवाही पर,
आपसे बिछड़न कैसे सहपाऊँगा,
यह अँधेरा तेरे हिस्से का है,
मेरे हिस्से में वफ़ा ही है।।1।।
कोई सूरत तराशी न गई हमसे,
कोई बगिया न बनाई गई हमसे,
उनका इन्तजार करते रहे करते रहे,
कोई मूरत न दिखाई गई उनसे,
ग़म का नतीजा तेरे हिस्से का है,
मेरे हिस्से में वफ़ा ही है।।2।।
शायद किसी दूसरी दुनिया से है,
तो भूलजाते हैं एक बार मिलकर,
ऐसे आते हैं जैसे सावन से हैं,
कहाँ समा जाते हैं बस छूकर,
झूठा सब्र तेरे हिस्से का है,
मेरे हिस्से में वफ़ा ही है।।3।।
अकेले हैं वजह तुम हो,
वजह है तो साथ तुम हो,
अपने पैगाम भेजता रहा,
मैं ख़ामोश हूँ और बात तुम हो,
बताना कौन सा रहम तेरे हिस्से का है,
मेरे हिस्से में वफ़ा ही है।।4।।
ख़ुश-गुमान-दूसरे के विचारों से खुश होना

©®अभिषेक: पाराशरः ‘आनन्द’

Language: Hindi
Tag: गीत
48 Views
Join our official announcements group on Whatsapp & get all the major updates from Sahityapedia directly on Whatsapp.
You may also like:
कुछ लोग किरदार ऐसा लाजवाब रखते हैं।
कुछ लोग किरदार ऐसा लाजवाब रखते हैं।
Surinder blackpen
करीम तू ही बता
करीम तू ही बता
Satish Srijan
हमारा फ़र्ज
हमारा फ़र्ज
Rajni kapoor
जितना खुश होते है
जितना खुश होते है
Vishal babu (vishu)
धूम मची चहुँ ओर है, होली का हुड़दंग ।
धूम मची चहुँ ओर है, होली का हुड़दंग ।
Arvind trivedi
तुम्हारे लिए हम नये साल में
तुम्हारे लिए हम नये साल में
gurudeenverma198
■ लघुकथा / एटीट्यूड
■ लघुकथा / एटीट्यूड
*Author प्रणय प्रभात*
स्वाल तुम्हारे-जवाब हमारे
स्वाल तुम्हारे-जवाब हमारे
Ravi Ghayal
जमाने की अगर कह दूँ, जमाना रूठ जाएगा ।
जमाने की अगर कह दूँ, जमाना रूठ जाएगा ।
Ashok deep
💐अज्ञात के प्रति-90💐
💐अज्ञात के प्रति-90💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
*उम्र के पड़ाव पर रिश्तों व समाज की जरूरत*
*उम्र के पड़ाव पर रिश्तों व समाज की जरूरत*
Anil chobisa
दोहे-
दोहे-
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
🌷🧑‍⚖️हिंदी इन माय इंट्रो🧑‍⚖️⚘️
🌷🧑‍⚖️हिंदी इन माय इंट्रो🧑‍⚖️⚘️
Ms.Ankit Halke jha
कहा खो गए वो
कहा खो गए वो
Khushboo Khatoon
Deepak Kumar Srivastava
Deepak Kumar Srivastava "Neel Padam"
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
बस, इतना सा करना...गौर से देखते रहना
बस, इतना सा करना...गौर से देखते रहना
Teena Godhia
Kitna mushkil hota hai jab safar me koi sath nhi hota.
Kitna mushkil hota hai jab safar me koi sath nhi hota.
Sakshi Tripathi
“ जियो और जीने दो ”
“ जियो और जीने दो ”
DrLakshman Jha Parimal
माँ (ममता की अनुवाद रही)
माँ (ममता की अनुवाद रही)
Vijay kumar Pandey
शिवकुमार बिलगरामी के बेहतरीन शे'र
शिवकुमार बिलगरामी के बेहतरीन शे'र
Shivkumar Bilagrami
हमने देखा है हिमालय को टूटते
हमने देखा है हिमालय को टूटते
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
प्रेम की राख
प्रेम की राख
Buddha Prakash
नींद
नींद
Diwakar Mahto
*आई बारिश हो गई,धरती अब खुशहाल(कुंडलिया)*
*आई बारिश हो गई,धरती अब खुशहाल(कुंडलिया)*
Ravi Prakash
ग़ज़ल
ग़ज़ल
Fuzail Sardhanvi
वह जो रुखसत हो गई
वह जो रुखसत हो गई
श्याम सिंह बिष्ट
ज़िन्दगी की गोद में
ज़िन्दगी की गोद में
Rashmi Sanjay
कश्ती औऱ जीवन
कश्ती औऱ जीवन
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
देश प्रेम
देश प्रेम
डॉ प्रवीण ठाकुर
उतना ही उठ जाता है
उतना ही उठ जाता है
Dr fauzia Naseem shad
Loading...