Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
30 Nov 2022 · 1 min read

💐💐परमार्थ: तथा प्रतिपरमार्थ:💐💐

पूर्व समये परमार्थस्य भावनया प्रतिपरमार्थ: प्राप्त: अभवत्।अद्य निन्दा न करोति तु स्तुति: प्राप्त: भवति।लोकयाने अरोहणस्य कृते उपविशस्य कृते निषेधः न करोतु तु निश्चितं मन्यते यत् सः परोपकारी जनः।
एकः भारतीय: संस्कृति: एतादृश:,यः सर्वेषां हितः इच्छति-‘अरिहुक अनभल कीन्ह न रामा'(मानस-2।183।3),’काजु हमार तासु हित होई।रिपु सन करेहु बतकही सोई।।”(मानस-6।17।4)।सर्वेषां हितः मनुष्येव कर्तुं शक्नोति।
©®अभिषेक: पाराशरः

Language: Sanskrit
47 Views
You may also like:
साधारण दिखो!
साधारण दिखो!
Suraj kushwaha
उसने मुझको बुलाया तो जाना पड़ा।
उसने मुझको बुलाया तो जाना पड़ा।
सत्य कुमार प्रेमी
#drarunkumarshastriblogger
#drarunkumarshastriblogger
DR ARUN KUMAR SHASTRI
Ham tum aur waqt jab teeno qismat se mil gye.....
Ham tum aur waqt jab teeno qismat se mil gye.....
shabina. Naaz
सियासत
सियासत
Anoop Kumar Mayank
ऐ जोश क्या गरज मुझे हूरो-कसूर से, मेरा वतन मेरे लिए जन्नत से
ऐ जोश क्या गरज मुझे हूरो-कसूर से, मेरा वतन मेरे...
Dr Rajiv
फूलन देवी
फूलन देवी
Shekhar Chandra Mitra
कितने सावन बीते हैं
कितने सावन बीते हैं
VINOD KUMAR CHAUHAN
💐प्रेम कौतुक-274💐
💐प्रेम कौतुक-274💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
आज बच्चों के हथेली पर किलकते फोन हैं।
आज बच्चों के हथेली पर किलकते फोन हैं।
सत्यम प्रकाश 'ऋतुपर्ण'
गजल
गजल
जगदीश शर्मा सहज
आजादी का अमृतमहोत्सव एव गोरखपुर
आजादी का अमृतमहोत्सव एव गोरखपुर
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
एक एहसास
एक एहसास
Dr fauzia Naseem shad
ऐसी बरसात भी होती है
ऐसी बरसात भी होती है
Surinder blackpen
जो रूठ गए तुमसे, तो क्या मना पाओगे, ज़ख्मों पर हमारे मरहम लगा पाओगे?
जो रूठ गए तुमसे, तो क्या मना पाओगे, ज़ख्मों पर...
Manisha Manjari
जहाँ तक राजनीति विचारधारा का संबंध है यदि वो सटीक ,तर्कसंगत
जहाँ तक राजनीति विचारधारा का संबंध है यदि वो सटीक...
DrLakshman Jha Parimal
🌷🧑‍⚖️हिंदी इन माय इंट्रो🧑‍⚖️⚘️
🌷🧑‍⚖️हिंदी इन माय इंट्रो🧑‍⚖️⚘️
Ankit Halke jha
"अवसाद"
Dr Meenu Poonia
आप सभी को महाशिवरात्रि की बहुत-बहुत हार्दिक बधाई..
आप सभी को महाशिवरात्रि की बहुत-बहुत हार्दिक बधाई..
आर.एस. 'प्रीतम'
■ मुद्दा / पूछे जनता जनार्दन...!!
■ मुद्दा / पूछे जनता जनार्दन...!!
*Author प्रणय प्रभात*
मुक्तक
मुक्तक
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
*सौतेला हुआ व्यवहार है (हिंदी गजल/गीतिका)*
*सौतेला हुआ व्यवहार है (हिंदी गजल/गीतिका)*
Ravi Prakash
--फेस बुक की रील--
--फेस बुक की रील--
गायक और लेखक अजीत कुमार तलवार
यथार्थ से दूर
यथार्थ से दूर "सेवटा की गाथा"
Er.Navaneet R Shandily
सुनहरी स्मृतियां
सुनहरी स्मृतियां
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
कविता के हर शब्द का, होता है कुछ सार
कविता के हर शब्द का, होता है कुछ सार
Dr Archana Gupta
✍️कुछ चेहरे..
✍️कुछ चेहरे..
'अशांत' शेखर
लश्क़र देखो
लश्क़र देखो
Dr. Sunita Singh
चुप कर पगली तुम्हें तो प्यार हुआ है
चुप कर पगली तुम्हें तो प्यार हुआ है
सुशील कुमार सिंह "प्रभात"
बेटियाँ, कविता
बेटियाँ, कविता
Pakhi Jain
Loading...