Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

💐💐परमात्मा इन्द्रियादिभि: परेय💐💐

नासतो विद्यते भावो नाभावो विद्यते सतः'(गीता-2।/16)।वस्तूनि उत्पन्नं भवति तथा नष्ट: भवन्ति।परं परमात्मातत्वं निरन्तर: भवति।अस्माकं दृष्टि: सर्वदा एषः ‘है’इत्यस्मिन् एव उपस्थित: स्यात्।शरीरादीन् ‘है’इति मननं व्यापकः त्रुटि।परमात्मा इंद्रियेण-अन्तः करणेन सर्वथा अतीत:।सः तथापि ‘इन्द्रिय-अन्तः करण’इत्यस्य समक्ष प्रकट: भवितुं शक्नोति।सः सर्वसमर्थम्।वयं परमात्मनं बन्धनं तु न कर्तुं शक्नुम:।परं एतं स्वीकार कर्तुं शक्नोति।

यः सर्वेषां स्व अस्ति।सः परमात्मा।

©®अभिषेक: पाराशरः

45 Views
You may also like:
गोरे मुखड़े पर काला चश्मा
श्री रमण 'श्रीपद्'
गीत
शेख़ जाफ़र खान
न झुकेगे हम
AMRESH KUMAR VERMA
एक किताब लिखती हूँ।
Anamika Singh
'कभी तो'
Godambari Negi
"सावन-संदेश"
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
सारे द्वार खुले हैं हमारे कोई झाँके तो सही
Vivek Pandey
✍️चराग बुझा गयी✍️
'अशांत' शेखर
सब खड़े सुब्ह ओ शाम हम तो नहीं
Anis Shah
धड़कनों की सदा।
Taj Mohammad
चन्द अशआर (मुख़्तलिफ़ शेर)
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
मुहब्बत क्या है
shabina. Naaz
✍️जिंदगी✍️
'अशांत' शेखर
$ग़ज़ल
आर.एस. 'प्रीतम'
जय जय भारत देश महान......
Buddha Prakash
पिता
Anis Shah
*अंतिम प्रणाम ! डॉक्टर मीना नकवी*
Ravi Prakash
"समय का पहिया"
Ajit Kumar "Karn"
✍️शाम की तन्हाई✍️
'अशांत' शेखर
बीवी हो तो ऐसी... !!
Rakesh Bahanwal
शम्बूक हत्या! सत्य या मिथ्या?
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
*अग्रसेन जी धन्य (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
बरखा रानी तू कयामत है ...
ओनिका सेतिया 'अनु '
माटी - गीत
Shiva Awasthi
नज़रिया
Shyam Sundar Subramanian
शाम सुहानी सावन की
लक्ष्मी सिंह
*सोमनाथ मंदिर 【भक्ति-गीत】*
Ravi Prakash
विद्या पर दोहे
Dr. Sunita Singh
गर्भस्थ बेटी की पुकार
Dr Meenu Poonia
साँझ
Alok Saxena
Loading...