Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

💐💐धड़कता दिल कहे सब कुछ तुम्हारी याद आती है💐💐

धड़कता दिल कहे सब कुछ तुम्हारी याद आती है,
टपकते नयन कहते हैं सब, तुम्हारी याद आती है।
नहीं चाहिए फ़िरदौस और न हीं ग़ैरों की दीवानी,
नहीं जिन्दा रखी जायें जमीं पर मेरी निशानी,
बेख़ुदी तुम अपनी दे दो यह इज्ज़त तो है फ़ानी
मेरी हर साँस भी तेरे ही रागों को गातीं हैं,
धड़कता दिल कहे सब कुछ तुम्हारी याद आती है,
टपकते नयन कहते हैं सब, तुम्हारी याद आती है।।1।

सबब तो जिन्दगी के दरमियाँ आते रहेंगे बहुत,
हम भी तुम को देखकर मुस्कराते रहेंगे बहुत,
वक्त बिताएंगे तुम्हें अपना रहबर बनाकर,
कहीं ठहरा रहूँ मैं फिर भी तेरी नजरें बुलाती हैं,
धड़कता दिल कहे सब कुछ तुम्हारी याद आती है,
टपकते नयन कहते हैं सब, तुम्हारी याद आती है।।2।।

जगत के रंग ऐसे हैं जैसे सितारा टूट कर बिखरे,
तेरे बिन क्या ही है हमें चाहे सूरज पश्चिम में निकले,
ज़लज़ला क्या है, तू न मिला तो सबसे बड़ा दुःख है,
तेरा एक शब्द सुनने को दुआएं गीत गातीं हैं,
धड़कता दिल कहे सब कुछ तुम्हारी याद आती है,
टपकते नयन कहते हैं सब, तुम्हारी याद आती है।।3।।

©अभिषेक: पाराशरः

1 Like · 77 Views
You may also like:
✍️मौत का जश्न✍️
"अशांत" शेखर
एहसासों के समंदर में।
Taj Mohammad
सरकारी निजीकरण।
Taj Mohammad
माँ +माँ = मामा
Mahendra Rai
क्या कहते हो हमसे।
Taj Mohammad
रामायण आ रामचरित मानस मे मतभिन्नता -खीर वितरण
Rama nand mandal
हम कहाँ लिख पाते 
Dr. Alpa H. Amin
हे गुरू।
Anamika Singh
मां से बिछड़ने की व्यथा
Dr. Alpa H. Amin
💐💐परमात्मा इन्द्रियादिभि: परेय💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
पर्यावरण
Vijaykumar Gundal
*पापा … मेरे पापा …*
Neelam Chaudhary
माँ क्या लिखूँ।
Anamika Singh
बुद्धिमान बनाम बुद्धिजीवी
Shivkumar Bilagrami
बच्चों के पिता
Dr. Kishan Karigar
अजब कहानी है।
Taj Mohammad
“ फेसबुक क प्रणम्य देवता ”
DrLakshman Jha Parimal
मृत्यु
AMRESH KUMAR VERMA
बारिश की बौछार
Shriyansh Gupta
💐💐💐न पूछो हाल मेरा तुम,मेरा दिल ही दुखाओगे💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
जीने की चाहत है सीने में
Krishan Singh
भारत लोकतंत्र एक पर्याय
Rj Anand Prajapati
वेलेंटाइन स्पेशल (5)
N.ksahu0007@writer
Love song
श्याम सिंह बिष्ट
मेंढक और ऊँट
सूर्यकांत द्विवेदी
वृक्ष हस रहा है।
Vijaykumar Gundal
बेरोजगारी जवान के लिए।
Taj Mohammad
सम्मान करो एक दूजे के धर्म का ..
ओनिका सेतिया 'अनु '
हे विधाता शरण तेरी
Saraswati Bajpai
हे पिता,करूँ मैं तेरा वंदन
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
Loading...