Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
7 Dec 2022 · 1 min read

💐साधनस्य तात्पर्यं असाधनस्य नाश:💐

साधनस्य तात्पर्यं असाधनस्य नाश:।फलस्य इच्छा करिष्यन्ति तु उन्नति अवरुद्ध: भविष्यति।सर्वेण दीर्घ: फलं एषः अस्ति यत् राग: द्वेष: च अनश्यत्।राग: द्वेष: च असाधनं।असाधनस्य नाशे साधकस्य विशेष: दृष्टि: भवेत्।परिस्थितिं परिवर्तने एतस्य दृष्टि: न भवेत्।यः परिस्थित्या: पराधीनं अस्ति, सः साधनं न कर्तुं शक्नोति।

©®अभिषेक: पाराशरः

Language: Sanskrit
39 Views
You may also like:
*भलमनसाहत से कब होता सब प्रश्नों का हल है (हिंदी गजल/ गीतिका)*
*भलमनसाहत से कब होता सब प्रश्नों का हल है (हिंदी...
Ravi Prakash
मैं सरकारी बाबू हूं
मैं सरकारी बाबू हूं
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
-- माता पिता --
-- माता पिता --
गायक और लेखक अजीत कुमार तलवार
फरिश्तों का ईमान डोल जाए।
फरिश्तों का ईमान डोल जाए।
Taj Mohammad
कृतज्ञता
कृतज्ञता
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
"खिलौने"
Dr Meenu Poonia
✍️जन्मदिन✍️
✍️जन्मदिन✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
Education
Education
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
विजय पर्व है दशहरा
विजय पर्व है दशहरा
जगदीश लववंशी
मुझें ना दोष दे ,तेरी सादगी का ये जादु
मुझें ना दोष दे ,तेरी सादगी का ये जादु
Sonu sugandh
"लोग क्या सोचेंगे?"
Pravesh Shinde
अच्छा लगा
अच्छा लगा
Sandeep Albela
बरसात और तुम
बरसात और तुम
Sidhant Sharma
■ आज का नुस्खा
■ आज का नुस्खा
*Author प्रणय प्रभात*
ए रब मेरे मरने की खबर उस तक पहुंचा देना
ए रब मेरे मरने की खबर उस तक पहुंचा देना
श्याम सिंह बिष्ट
वजूद पे उठते सवालों का जवाब ढूंढती हूँ,
वजूद पे उठते सवालों का जवाब ढूंढती हूँ,
Manisha Manjari
Tears in eyes
Tears in eyes
Buddha Prakash
विश्व पुस्तक मेला, दिल्ली 2023
विश्व पुस्तक मेला, दिल्ली 2023
Shashi Dhar Kumar
भाव अंजुरि (मैथिली गीत)
भाव अंजुरि (मैथिली गीत)
मनोज कर्ण
न थक कर बैठते तुम तो, ये पूरा रास्ता होता।
न थक कर बैठते तुम तो, ये पूरा रास्ता होता।
सत्य कुमार प्रेमी
मेरी आंखों में
मेरी आंखों में
Dr fauzia Naseem shad
गजल
गजल
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
जिंदगी उधेड़बुन का नाम नहीं है
जिंदगी उधेड़बुन का नाम नहीं है
कवि दीपक बवेजा
नारी शक्ति के नौरूपों की आराधना नौरात एव वर्तमान में नारी का याथार्त
नारी शक्ति के नौरूपों की आराधना नौरात एव वर्तमान में...
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
💐💐बेबी मेरा टेस्ट ले रही💐💐
💐💐बेबी मेरा टेस्ट ले रही💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
अच्छाई ऐसी क्या है तुझमें
अच्छाई ऐसी क्या है तुझमें
gurudeenverma198
एक सन्त: श्रीगुरु तेग बहादुर
एक सन्त: श्रीगुरु तेग बहादुर
Satish Srijan
तुम्हारी यादों में सो जाऊं
तुम्हारी यादों में सो जाऊं
RAJA KUMAR 'CHOURASIA'
सफ़र
सफ़र
Er.Navaneet R Shandily
ग़ज़ल
ग़ज़ल
Mahendra Narayan
Loading...