Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
23 Jun 2022 · 1 min read

💐साधकस्य निष्ठा एव कल्याणकर्त्री💐

यथा कश्चित् धनी पुरुषस्य विचार: पालनं करोति तु तं निश्चित रूपेण धन मिलिष्यति,एतादृशः एव तत्वज्ञानिनः उपदेशः पालनं करोति तु तत्वज्ञानं प्राप्त: भविष्यति।यदि गुरु ज्ञानी न अस्ति तु अपि तस्य आज्ञया ज्ञानं भवति।यथा पत्या: अज्ञापालनेन मन्दोदरी एषः ज्ञानं भवति स्म।यः रावणं न आसीत्।वास्तविकतायां सः पत्या: आज्ञायाः पालनं न,प्रत्युत् भगवतः शास्त्रस्य अज्ञाया: पालनं।तात्पर्य एषः अस्ति यत् साधकस्य निष्ठा एव कल्याणकर्त्री।

©®अभिषेक: पाराशरः

Language: Sanskrit
102 Views
You may also like:
बड़ी बेवफ़ा थी शाम .......
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
स्वच्छ भारत (लघुकथा)
Ravi Prakash
दुनिया हकीर है
shabina. Naaz
हर्षवर्धन महान
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
सुनसान राह
AMRESH KUMAR VERMA
ठाकरे को ठोकर
Rj Anand Prajapati
रुक-रुक बरस रहे मतवारे / (सावन गीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
पिता का सपना
Prabhudayal Raniwal
🌺🌺प्रेम की राह पर-41🌺🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
कहां मालूम था इसको।
Taj Mohammad
सच और झूठ
श्री रमण 'श्रीपद्'
"शौर्य"
Lohit Tamta
चल अकेला
Vikas Sharma'Shivaaya'
Writing Challenge- जल (Water)
Sahityapedia
✍️जिंदगी क्या है...✍️
'अशांत' शेखर
हादसा
श्याम सिंह बिष्ट
सावन में एक नारी की अभिलाषा
Ram Krishan Rastogi
जो आया है इस जग में वह जाएगा।
Anamika Singh
दर्द को मायूस करना चाहता हूँ
Sanjay Narayan
💐 निगोड़ी बिजली 💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
कुछ प्यार है तुम्हारा
Dr fauzia Naseem shad
जब जख्म कुरेदे जाते हैं
Suryakant Chaturvedi
अखबार में क्या आएगा
कवि दीपक बवेजा
चंद्रशेखर प्रसाद 'चंदू'
Shekhar Chandra Mitra
"सावन-संदेश"
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
डर होता है
Abhishek Pandey Abhi
गर जा रहे तो जाकर इक बार देख लेना।
सत्य कुमार प्रेमी
रूसवा है मुझसे जिंदगी
VINOD KUMAR CHAUHAN
वक्त
Shyam Sundar Subramanian
शब्द बिन, नि:शब्द होते,दिख रहे, संबंध जग में।
संजीव शुक्ल 'सचिन'
Loading...