Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Dec 2022 · 1 min read

💐भगवान् तथा आनन्द:💐

भगवान् महान् आनंदस्य प्राप्तया: कृते एषः मनुष्यशरीर: ददाति।सर्वदा पर्यन्तं दुःखानां नाश: भवतु-एतस्य कृते मनुष्यशरीर: ददाति।एतस्य उद्देश्यस्य पूर्तिहेतु वयं एतस्मिन् सत्संगे उपविशाम:।अस्माकं एकः लक्ष्य: निर्धारणं भवतु यत् वयं परमात्मनः प्राप्ति निश्चित रूपेण कारयति।एतस्य लक्ष्यस्य प्रत्येकं समय: जागृति भवतु।एतस्य वार्तायाः ध्यानं सर्वदा भवतु यत् वयं यत्र निरन्तर: न निवसाम्।प्रत्येकं क्षणं सावधानं भवतु।यत्र सर्वदा न निवसामः।यत्र उपार्जनस्य कृते आगच्छति।यदा आगच्छन् तदैव परमार्थिक: उन्नति कियत् भवति च कियत् शेषः।एतस्मिन् विषये सावधानं भवेयु:।

©®अभिषेक: पाराशरः

Language: Sanskrit
1 Like · 62 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
सजन के संग होली में, खिलें सब रंग होली में।
सजन के संग होली में, खिलें सब रंग होली में।
डॉ.सीमा अग्रवाल
भाई बहन का रिश्ता बचपन और शादी के बाद का
भाई बहन का रिश्ता बचपन और शादी के बाद का
Rajni kapoor
कोना मेरे नाम का
कोना मेरे नाम का
Dr.Priya Soni Khare
अपनी सीमाओं को लान्गां तो खुद को बड़ा पाया
अपनी सीमाओं को लान्गां तो खुद को बड़ा पाया
कवि दीपक बवेजा
कसम है तुम्हें भगतसिंह की
कसम है तुम्हें भगतसिंह की
Shekhar Chandra Mitra
स्वार्थ
स्वार्थ
Sushil chauhan
डॉ अरुण कुमार शास्त्री x एक अबोध बालक x अरुण अतृप्त
डॉ अरुण कुमार शास्त्री x एक अबोध बालक x अरुण अतृप्त
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मुझे मालूम है, मेरे मरने पे वो भी
मुझे मालूम है, मेरे मरने पे वो भी "अश्क " बहाए होगे..?
Sandeep Mishra
मैथिली भाषाक मुक्तक / शायरी
मैथिली भाषाक मुक्तक / शायरी
Binit Thakur (विनीत ठाकुर)
Khahisho ki kashti me savar hokar ,
Khahisho ki kashti me savar hokar ,
Sakshi Tripathi
यहाँ पर सब की
यहाँ पर सब की
Dr fauzia Naseem shad
चेहरा
चेहरा
नन्दलाल सुथार "राही"
मेरा तोता
मेरा तोता
Kanchan Khanna
नौका विहार
नौका विहार
Dr Praveen Thakur
कविता
कविता
Rambali Mishra
हुस्न अगर बेवफा ना होता,
हुस्न अगर बेवफा ना होता,
Vishal babu (vishu)
*प्यार का मतलब नहीं बस प्यार है(हिंदी गजल/ गीतिका)*
*प्यार का मतलब नहीं बस प्यार है(हिंदी गजल/ गीतिका)*
Ravi Prakash
जीवन दुखों से भरा है जीवन के सभी पक्षों में दुख के बीज सम्मि
जीवन दुखों से भरा है जीवन के सभी पक्षों में दुख के बीज सम्मि
Ms.Ankit Halke jha
एक कुआ पुराना सा.. जिसको बने बीत गया जमाना सा..
एक कुआ पुराना सा.. जिसको बने बीत गया जमाना सा..
Shubham Pandey (S P)
सच्ची सहेली - कहानी
सच्ची सहेली - कहानी
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
कोशी के वटवृक्ष
कोशी के वटवृक्ष
Shashi Dhar Kumar
राम है अमोघ शक्ति
राम है अमोघ शक्ति
Kaushal Kumar Pandey आस
भाग्य का लिखा
भाग्य का लिखा
Nanki Patre
फटेहाल में छोड़ा.......
फटेहाल में छोड़ा.......
सुशील कुमार सिंह "प्रभात"
2260.
2260.
Dr.Khedu Bharti
■ जागो या फिर भागो...!!
■ जागो या फिर भागो...!!
*Author प्रणय प्रभात*
तपन ऐसी रखो
तपन ऐसी रखो
Ranjana Verma
💐प्रेम कौतुक-338💐
💐प्रेम कौतुक-338💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
पुस्तकें
पुस्तकें
डॉ. शिव लहरी
आचार, विचार, व्यवहार और विधि एक समान हैं तो रिश्ते जीवन से श
आचार, विचार, व्यवहार और विधि एक समान हैं तो रिश्ते जीवन से श
विमला महरिया मौज
Loading...