Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

🌺🌻प्रेमस्य आनन्द: प्रतिक्षणं वर्धमानम्🌻🌺

जड़ वस्तुं नीत्वा ‘ममता’ भवति।स्वयमेव आत्मीयता भवति।ज्ञानमार्गे अभेद: भवति प्रेममार्गे अभिन्नता।प्रेमस्य अद्वैत बहु विलक्षणं।प्रेमस्य आनन्द: प्रतिक्षणं वर्धमानम्।प्रेमस्य आनंदे उच्चै: तरंगा: उत्पन्ना: भवन्ति।कम्पनं भवति।एतस्मिन् विशेष: मधुरता उत्पन् भवति।प्रेमाश्रु: शीतल: तथा नासिकां समया नेत्रकोणेन ‘फूहारा सदृशः’इति तीव्रवेगेन बहिः आगच्छन्ति।

©®अभिषेक:पाराशरः

35 Views
You may also like:
चेहरा अश्कों से नम था
Taj Mohammad
मैं रात-दिन
Dr fauzia Naseem shad
मुझको खुद मालूम नहीं
gurudeenverma198
चंद सांसे अभी बाकी है
Arjun Chauhan
हौसला खुद को
Dr fauzia Naseem shad
🌺प्रेमस्य रसः ज्ञानस्य रसेण बहु विलक्षणं🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
हमनें खुद को अगर नहीं समझा
Dr fauzia Naseem shad
मां
Anjana Jain
श्रीयुत अटलबिहारी जी
Pt. Brajesh Kumar Nayak
हमारी जां।
Taj Mohammad
सारे ही चेहरे कातिल हैं।
Taj Mohammad
निशां बाकी हैं।
Taj Mohammad
जीवन की प्रक्रिया में
Dr fauzia Naseem shad
ईमानदारी
AMRESH KUMAR VERMA
कन्यादान क्यों और किसलिए [भाग६]
Anamika Singh
"महेनत की रोटी"
Dr.Alpa Amin
🌺प्रेम की राह पर-54🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
✍️"अग्निपथ-३"...!✍️
"अशांत" शेखर
कर्म में कौशल लाना होगा
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
हर हक़ीक़त को
Dr fauzia Naseem shad
नरसिंह अवतार
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
सच में ईश्वर लगते पिता हमारें।।
Taj Mohammad
स्वर्ग नरक का फेर
Dr Meenu Poonia
रामायण आ रामचरित मानस मे मतभिन्नता -खीर वितरण
Rama nand mandal
कश्ती को साहिल चाहिए।
Taj Mohammad
✍️सब खुदा हो गये✍️
"अशांत" शेखर
हर ख्वाहिश।
Taj Mohammad
मुक्तक
AJAY PRASAD
💐संसारे कः अपि स्व न💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
"दोस्त-दोस्ती और पल"
Lohit Tamta
Loading...