Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
21 Dec 2022 · 1 min read

🌺🌺मेरी सादगी को बदनाम ना करो🌺🌺

##मणिकर्णिका##
##बौनी बड़ी खुश होगी##
##तुझे शेर खा जाए##

मेरी सादगी को बदनाम ना करो,
मेरी सादगी को बदनाम ना करो,
कोई हँसी तो दिखाई देती तुम्हारी,
कोई तन्हाई तो दिखाई देती तुम्हारी,
वक़्त के साथ सिमट गया सब कुछ,
कोई हौंसला अफ़जाई दिखाई देती तुम्हारी,
मेरी वफ़ा को तमाम ना करो,
मेरी सादगी को बदनाम ना करो।।1।।
तुम्हें छोड़कर कोई उदासी नहीं है,
अश्क़ गिरते रहें आँख प्यासी नहीं हैं,
तुम्हें ढूँढा हर जगह हर शक़्ल में,
नींद है पर आँख निंदासी नहीं है,
जो कुछ जुड़ा है उसे बे-बुनियाद ना करो,
मेरी सादगी को बदनाम ना करो।।2।।
वो छोड़ जायेंगे,दिल ने इत्तिला दी,
उनकी हर बात ने जिन्दगी दी सुबह दी,
हम देखते रहे ख़बर तो लेंगे,
कभी झूठी भी आवाज़ न दी,
उनसे कहो हमसे सवाल जबाब न करो,
मेरी सादगी को बदनाम ना करो।।3।।
निगाहों से पूँछें या इस दिल से पूँछें,
हिज़्र उन्हें न है क्या वो हैं अछूते,
उनसे कहना आएगी मेरी भी बारी,
याद करेंगे करवटें बदलते बदलते,
चुप रहो, ज़्यादा राहत की बात ना करो,
मेरी सादगी को बदनाम ना करो।।4।।

©®अभिषेक: पाराशरः ‘आनन्द’

Language: Hindi
Tag: गीत
54 Views
Join our official announcements group on Whatsapp & get all the major updates from Sahityapedia directly on Whatsapp.
You may also like:
💐अज्ञात के प्रति-3💐
💐अज्ञात के प्रति-3💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
'ठहरो'
'ठहरो'
Dr. Rajiv
परवरिश
परवरिश
Dr. Pradeep Kumar Sharma
*हिंदी हमारी शान है, हिंदी हमारा मान है*
*हिंदी हमारी शान है, हिंदी हमारा मान है*
Dushyant Kumar
"रंग भरी शाम"
Dr. Kishan tandon kranti
गुज़रा है वक़्त लेकिन
गुज़रा है वक़्त लेकिन
Dr fauzia Naseem shad
ज़िंदगी बन गई है सूखा शज़र।
ज़िंदगी बन गई है सूखा शज़र।
Surinder blackpen
बुद्ध वचन सुन लो
बुद्ध वचन सुन लो
Buddha Prakash
Colours of heart,
Colours of heart,
DrChandan Medatwal
सितम गर हुआ है।
सितम गर हुआ है।
Taj Mohammad
रजा में राजी गर
रजा में राजी गर
Satish Srijan
मेरी सफर शायरी
मेरी सफर शायरी
Ms.Ankit Halke jha
एक औरत रेशमी लिबास और गहनों में इतनी सुंदर नहीं दिखती जितनी
एक औरत रेशमी लिबास और गहनों में इतनी सुंदर नहीं दिखती जितनी
Annu Gurjar
हो जाऊं तेरी!
हो जाऊं तेरी!
Farzana Ismail
मेरे वश में नहीं है, तुम्हारी सजा मुकर्रर करना ।
मेरे वश में नहीं है, तुम्हारी सजा मुकर्रर करना ।
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
मैं
मैं
Ranjana Verma
■ प्रकाशित घरेलू वृत्तांत
■ प्रकाशित घरेलू वृत्तांत
*Author प्रणय प्रभात*
सूरज उतरता देखकर कुंडी मत लगा लेना
सूरज उतरता देखकर कुंडी मत लगा लेना
कवि दीपक बवेजा
अक्षय तृतीया ( आखा तीज )
अक्षय तृतीया ( आखा तीज )
डॉ.सीमा अग्रवाल
शिव अविनाशी, शिव संयासी , शिव ही हैं शमशान निवासी।
शिव अविनाशी, शिव संयासी , शिव ही हैं शमशान निवासी।
Gouri tiwari
*शिवजी की चली बारात, हम बाराती हैं (भक्ति गीत)*
*शिवजी की चली बारात, हम बाराती हैं (भक्ति गीत)*
Ravi Prakash
#आज_का_दोहा
#आज_का_दोहा
संजीव शुक्ल 'सचिन'
*,मकर संक्रांति*
*,मकर संक्रांति*
Shashi kala vyas
दिल से जुड़े रिश्ते
दिल से जुड़े रिश्ते
ruby kumari
इश्क़ का दस्तूर
इश्क़ का दस्तूर
VINOD KUMAR CHAUHAN
है नारी तुम महान , त्याग की तुम मूरत
है नारी तुम महान , त्याग की तुम मूरत
श्याम सिंह बिष्ट
प्रेम की बात जमाने से निराली देखी
प्रेम की बात जमाने से निराली देखी
Vishal babu (vishu)
पवन वसंती झूम रही है
पवन वसंती झूम रही है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
होली की हार्दिक शुभकामनाएं🎊
होली की हार्दिक शुभकामनाएं🎊
Aruna Dogra Sharma
Pyar ke chappu se , jindagi ka naiya par lagane chale the ha
Pyar ke chappu se , jindagi ka naiya par lagane chale the ha
Sakshi Tripathi
Loading...