Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#18 Trending Author

✍️प्रकृति के नियम✍️

✍️प्रकृति के नियम✍️
………………………….//
ये कैसी
विपदा है
मैं, मैं नहीं…
तू, तू नहीं…
अब हम
कही नहीं…
मैं, तू नहीं…
तू, मैं नहीं…
विश्वास नहीं,
तो खोजले
अपने आपको
अपने भीतर…

मन के सागर में
भरा है जल,
क्या कभी
इसका
मिला है तल..?
इसकी तलाश में
गुमनाम है तू..
यदि…
कभी मिलेगा भी
अपने आपसे
फिर वो तू नहीं…

मैं उम्रदराज़
समय के पहिये
के साथ बदला हूँ,
अब खुद से
कभी मिलु मैं,तो
फिर वो मैं नहीं…

प्रकृति पर
कोई ना भारी है ।
बदलाव के नियम
सभी पे जारी है ।
………………………….//
✍️”अशांत”शेखर✍️
20/06/2022

2 Comments · 63 Views
You may also like:
पत्ते ने अगर अपना रंग न बदला होता
Dr.Alpa Amin
.....उनके लिए मैं कितना लिखूं?
ऋचा त्रिपाठी
अटल विश्वास दो
Saraswati Bajpai
नसीब
DESH RAJ
माँ
सूर्यकांत द्विवेदी
चाहत कुर्सी की जागी
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
हादसा
श्याम सिंह बिष्ट
✍️फ़रिश्ता रहा नहीं✍️
'अशांत' शेखर
'कृषि' (हरिहरण घनाक्षरी)
Godambari Negi
मेरी जिन्दगी से।
Taj Mohammad
Gazal
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
श्रंगार के वियोगी कवि श्री मुन्नू लाल शर्मा और उनकी...
Ravi Prakash
काफ़िर जमाना
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
समझना तुझे है अगर जिंदगी को।
सत्य कुमार प्रेमी
✍️हम भारतवासी✍️
'अशांत' शेखर
कितनी इस दर्द ने
Dr fauzia Naseem shad
✍️माटी का है मनुष्य✍️
'अशांत' शेखर
हे महाकाल, शिव, शंकर।
Taj Mohammad
✍️ना तू..! ना मैं...!✍️
'अशांत' शेखर
सद् गणतंत्र सु दिवस मनाएं
Pt. Brajesh Kumar Nayak
जगाओ हिम्मत और विश्वास तुम
gurudeenverma198
मानव तू हाड़ मांस का।
Taj Mohammad
ज़िंदा हूं मरा नहीं हूं।
Taj Mohammad
विश्वेश्वर महादेव
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
एहसास में बे'एहसास की
Dr fauzia Naseem shad
मन को मोह लेते हैं।
Taj Mohammad
✍️ये सफर मेरा...✍️
'अशांत' शेखर
कन्यादान क्यों और किसलिए [भाग८]
Anamika Singh
✍️वो उड़ते रहता है✍️
'अशांत' शेखर
सबसे बेहतर है।
Taj Mohammad
Loading...