Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#18 Trending Author

✍️गुनाह की सजा✍️

✍️गुनाह की सजा✍️
……………………………………………………//
मेरी गुनाह की सजा ही दोगे ना तुम..
मौत तो कही दफ़ा आँखे चुराते रहती है ।
……………………………………………………//
©✍️’अशांत’शेखर✍️
06/08/2022

2 Likes · 6 Comments · 43 Views
You may also like:
काँटा और गुलाब
Anamika Singh
दिवस नहीं मनाये जाते हैं...!!!
Kanchan Khanna
$दोहे- हरियाली पर
आर.एस. 'प्रीतम'
हृद् कामना ....
डॉ.सीमा अग्रवाल
धार्मिक उन्माद
Rakesh Pathak Kathara
देखो हाथी राजा आए
VINOD KUMAR CHAUHAN
*सावन की जय हो (गीत)*
Ravi Prakash
मैं पिता हूं।
Taj Mohammad
अश्रुपात्र...A glass of tears भाग - 1
Dr. Meenakshi Sharma
बाज़ी
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
हाइकु__ पिता
Manu Vashistha
कोई ना हमें छेड़े।
Taj Mohammad
"मैं फ़िर से फ़ौजी कहलाऊँगा"
Lohit Tamta
हर लम्हा।
Taj Mohammad
आख़िरी मुलाकात
N.ksahu0007@writer
✍️चीरफाड़✍️
'अशांत' शेखर
तुमने वफा न निभाया
Anamika Singh
गीत - मुरझाने से क्यों घबराना
Dr. Rajendra Singh 'Rahi'
✍️कल के सुरज को ✍️
'अशांत' शेखर
जीवन मे कभी हार न मानों
Anamika Singh
ज़िंदगी मौत पर खत्म होगी
Dr fauzia Naseem shad
मन की व्यथा।
Rj Anand Prajapati
"फिर से चिपको"
पंकज कुमार "कर्ण"
पिताजी
विनोद शर्मा सागर
✍️थोड़ी मजाकियां✍️
'अशांत' शेखर
चुप रहने में।
Taj Mohammad
✍️जश्न-ए-चराग़ाँ✍️
'अशांत' शेखर
राहतें ना थी।
Taj Mohammad
✍️लॉकडाउन✍️
'अशांत' शेखर
हवा के झोंको में जुल्फें बिखर जाती हैं
VINOD KUMAR CHAUHAN
Loading...