Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
19 Sep 2022 · 1 min read

✍️कैसे मान लुँ ✍️

ये बात कैसे मान लुँ ………

तेरे सिवा किसी और को मैं कैसे जान लुँ,
तेरी जान बसती है मुझमें,
तू मुझे भूल जायेगा मैं ये बात कैसे मान लुँ।

7 Likes · 8 Comments · 84 Views
You may also like:
जैसी करनी वैसी भरनी
Ashish Kumar
रिंगटोन
पूनम झा 'प्रथमा'
Little baby !
Buddha Prakash
भक्त कवि स्वर्गीय श्री रविदेव_रामायणी*
Ravi Prakash
एहसास पर लिखे अशआर
Dr fauzia Naseem shad
ऐ जाने वफ़ा मेरी हम तुझपे ही मरते हैं।
सत्य कुमार प्रेमी
✍️दो पल का सुकून ✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
आत्मविश्वास
Dr. Akhilesh Baghel "Akhil"
🍀🌸🍀🌸आराधों नित सांय प्रात, मेरे सुतदेवकी🍀🌸🍀🌸
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
मुकरियां __नींद
Manu Vashistha
वनवासी संसार
सूर्यकांत द्विवेदी
लाल टोपी
मनोज कर्ण
दर्द पन्नों पर उतारा है
Seema 'Tu hai na'
ग़ज़ल-धीरे-धीरे
Sanjay Grover
✍️पाँव बढाकर चलना✍️
'अशांत' शेखर
स्पार्टकस की वापसी
Shekhar Chandra Mitra
हरा जगत में फैलता, सिमटे केसर रंग
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
जीवनदाता वृक्ष
AMRESH KUMAR VERMA
छठ महापर्व
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
पानी यौवन मूल
Jatashankar Prajapati
पानी
Vikas Sharma'Shivaaya'
!!*!! कोरोना मजबूत नहीं कमजोर है !!*!!
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
हकीकत
पीयूष धामी
“ खाइतो छी आ गुंगुअवैत छी “
DrLakshman Jha Parimal
'माँ मुझे बहुत याद आती हैं'
Rashmi Sanjay
आओ हम याद करे
Anamika Singh
बुद्ध भगवान की शिक्षाएं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
ज़ाफ़रानी
Anoop 'Samar'
तेरी रहबरी जहां में अच्छी लगे।
Taj Mohammad
मेरी चाह....।।
Rakesh Bahanwal
Loading...