Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 3, 2021 · 1 min read

◆पाँवगाड़ी◆

03 जून, विश्व साइकिल दिवस पर दोहे
“”””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””
● *पाँवगाड़ी* ●
°°°°°°°°°°°°°°°
साइकिल साधन एक है,सस्ता और आसान।
जिसकी मर्जी वो चले, चल दे सीना तान।।

बचपन साथी संग चढ़, बैठे मौज उड़ाय।
धक्का दें साथी गिरे त, उसको खूब चिड़ाय।।

आगे पीछे बीच में, तीन पीढ़ी बिठाय।
हँसते गाते बढ़ चलें, देख लोग हरसाय।।

खुद ढोती व बोझ संग, खर्चे भी कम कराय।
जब मिले मजबूर कोई, उसको लेत बिठाय।।

नर नारी सब चले, जग में सिर उठाय।
जब कहीं खराब होवे, जलदी से बन जाय।।

बढ़ती चर्बी और वसा, पैडल से घुल जाय।
कब्ज अम्लता दूर कर , सुंदर करे सुभाय।।

नित साइकिल का प्रयोग, अस्थि मजबूत बनाय।
जोड़ दर्द और गठिया, होने कभी न पाय।।

साधन छोटा है मगर, गली गली पहुँचाय।
वायु न दूषित करे,ईंधन खर्च बचाय।।

कितने भी धनवान हों, तनिको ना शरमाँय।
विषम समय बैद्य कहते, इसको रोज चलाँय।।

सुबह सायं जो साथी, साइकिल नित चलाँय,
स्वस्थ सुन्दर निरोग व, कांतिमय तन पाँय।।
“””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””
अशोक शर्मा, लक्ष्मीगंज,कुशीनगर, उत्तर प्रदेश
””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””

1 Like · 2 Comments · 158 Views
You may also like:
महान गुरु श्री रामकृष्ण परमहंस की काव्यमय जीवनी (पुस्तक-समीक्षा)
Ravi Prakash
मोहब्बत कुआं
Gaurav Dehariya साहित्य गौरव
'ख़त'
Godambari Negi
" समय "
DrLakshman Jha Parimal
बिछड़न [भाग ३]
Anamika Singh
✍️भरोसा✍️
"अशांत" शेखर
रंग हरा सावन का
श्री रमण 'श्रीपद्'
गरीब लड़की का बाप है।
Taj Mohammad
मेरा वजूद
Anamika Singh
ग़ज़ल- राना लिधौरी
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
हमारे शुभेक्षु पिता
Aditya Prakash
✍️हौंसला जवाँ उठा है✍️
"अशांत" शेखर
इश्क की आग।
Taj Mohammad
कविगोष्ठी समाचार
Awadhesh Saxena
जिंदगी की रेस
DESH RAJ
सुकून :-
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
1-अश्म पर यह तेरा नाम मैंने लिखा2- अश्म पर मेरा...
Pt. Brajesh Kumar Nayak
नरसिंह अवतार
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
यही है मेरा ख्वाब मेरी मंजिल
gurudeenverma198
गर्दिशे जहाँ पा गये।
Taj Mohammad
गुरु ईश्वर के रूप धरा पर
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
✍️घर में सोने को जगह नहीं है..?✍️
"अशांत" शेखर
पानी बरसे मेघ से
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
कशमकश
Anamika Singh
दुनियां फना हो जानी है।
Taj Mohammad
इश्क
goutam shaw
कुछ नहीं इंसान को
Dr fauzia Naseem shad
पैसों की भूख
AMRESH KUMAR VERMA
“ हम महान बनने की चाहत में लोगों से दूर...
DrLakshman Jha Parimal
तड़पती रही मैं सारी रात
Ram Krishan Rastogi
Loading...