Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

फ़ख़्त मेरी चाँद

रात चाँद
इतनी उदास थी
कि आसमाँ से
मुझे ही निहार रही थी;
पर मुझे तो चाहिए
धरती पर कोई चाँद,
जो हो मेरी चाँद !
फ़ख़्त मेरी चाँद !

2 Likes · 2 Comments · 298 Views
You may also like:
✍️✍️वजूद✍️✍️
'अशांत' शेखर
💐💐शरणागतस्य सर्वाणि कार्याणि परमात्मना भवन्ति💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
ऐ वक्त ठहर जा जरा सा
Sandeep Albela
जिन्दगी और चाहत
Anamika Singh
नरसिंह अवतार
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
✍️मैं जलजला हूँ✍️
'अशांत' शेखर
सितारे बुलंद थे मेरे
shabina. Naaz
गुरू गोविंद
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
ब्रह्म निर्णय
DR ARUN KUMAR SHASTRI
तमन्ना ए कल्ब।
Taj Mohammad
बेटी को जन्मदिन की बधाई
लक्ष्मी सिंह
परिवार
सूर्यकांत द्विवेदी
रमेश छंद "नन्ही गौरैया"
बासुदेव अग्रवाल 'नमन'
रास्ता
Anamika Singh
कर रहे शुभकामना...
डॉ.सीमा अग्रवाल
शहीदों का यशगान
शेख़ जाफ़र खान
इंसानों की इस भीड़ में
Dr fauzia Naseem shad
पुस्तक समीक्षा *तुम्हारे नेह के बल से (काव्य संग्रह)*
Ravi Prakash
✍️....और क्या क्या देखना बाकी है।✍️
'अशांत' शेखर
*ससुराला : ( काव्य ) वसंत जमशेदपुरी*
Ravi Prakash
माहौल का प्रभाव
AMRESH KUMAR VERMA
अपनी मर्ज़ी के मुताबिक सब हैं
Dr fauzia Naseem shad
रोमांस है
Pt. Brajesh Kumar Nayak
तुम्हे याद किये बिना सो जाऊ
D.k Math { ਧਨੇਸ਼ }
ये कैसा बेटी बाप का रिश्ता है?
Taj Mohammad
" पवित्र रिश्ता "
Dr Meenu Poonia
दर्द तक़सीम कर नहीं सकते
Dr fauzia Naseem shad
I love to vanish like that shooting star.
Manisha Manjari
तेरी एक तिरछी नज़र
DESH RAJ
"मेरे पिता"
vikkychandel90 विक्की चंदेल (साहिब)
Loading...