Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

हिन्‍दी

हिन्‍दी की संगत करें, फिर देखें परिणाम।
हिन्‍दी से स्‍वागत करें, कर करबद्ध प्रणाम।।
1।।

करना होगा पहल अब, धरना है यह ध्‍यान।
घर-घर में परिदृश्‍य हो, हिन्‍दी से पहचान।।2।।

पहनेंं अच्‍छे वसन तो, बनती है पहचान।
शब्‍दकोश में छिपे हैं, हिन्‍दी के परिधान।।3।।

पूरे भारत ने करी, इसकी सार सँभाल।
सत्‍ताधीश न रख सके, उन्‍नत इसका भाल।।4।।

हिन्‍दी का संकल्‍प लें, करें आचमन आज।
आज न हो पर एक दिन, होगा हिन्‍दी राज।।5।।

134 Views
You may also like:
मिलन की तड़प
Dr. Alpa H. Amin
सच
दुष्यन्त 'बाबा'
दो जून की रोटी उसे मयस्सर
श्री रमण
खाली मन से लिखी गई कविता क्या होगी
Sadanand Kumar
🍀🌸🍀🌸आराधों नित सांय प्रात, मेरे सुतदेवकी🍀🌸🍀🌸
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
जाने वाले बस कदमों के निशाँ छोड़ जाते हैं
VINOD KUMAR CHAUHAN
कर लो कोशिशें।
Taj Mohammad
तेरी आरज़ू, तेरी वफ़ा
VINOD KUMAR CHAUHAN
तेरे संग...
Dr. Alpa H. Amin
पिता श्रेष्ठ है इस दुनियां में जीवन देने वाला है
सतीश मिश्र "अचूक"
मोहब्बत की बातें।
Taj Mohammad
कभी सोचा ना था मैंने मोहब्बत में ये मंजर भी...
Krishan Singh
रोमांस है
Pt. Brajesh Kumar Nayak
तप रहे हैं प्राण भी / (गर्मी का नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
मोतियों की सुनहरी माला
DESH RAJ
तेरे दिल में कोई और है
Ram Krishan Rastogi
कन्या रूपी माँ अम्बे
Kanchan Khanna
वृक्ष बोल उठे..!
Prabhudayal Raniwal
** भावप्रतिभाव **
Dr. Alpa H. Amin
# महकता बदन #
DR ARUN KUMAR SHASTRI
नेकी कर इंटरनेट पर डाल
हरीश सुवासिया
पढ़ाई-लिखाई एक बोझ
AMRESH KUMAR VERMA
رہنما مل گیا
अरशद रसूल /Arshad Rasool
आख़िरी मुलाक़ात ghazal by Vinit Singh Shayar
Vinit kumar
आरज़ू है बस ख़ुदा
Dr. Pratibha Mahi
सफल होना चाहते हो
Krishan Singh
दिल के जख्म कैसे दिखाए आपको
Ram Krishan Rastogi
श्री गंगा दशहरा द्वार पत्र (उत्तराखंड परंपरा )
श्याम सिंह बिष्ट
इश्क का गम।
Taj Mohammad
ज़रा सी देर में सूरज निकलने वाला है
Dr. Sunita Singh
Loading...