Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Nov 28, 2016 · 1 min read

हिन्दी बाल गीत – 01

हिन्दी बाल गीत -०१
.
नन्हें – मुन्ने बच्चे हम,
पर कितने हैं सच्चे हम,
छोटी सी दुनिया हमारी,
मम्मी -पापा-दीदी- हम.
.
कभी करते हम शैतानी,
कभी लुका छिपी खेलते,
कभी सुनाते अपने गीत,
फिर भी रहते सच्चे हम.
.
कभी हमें सुनाने आते,
एक कहानी चन्दामामा,
परियां कभी लोरी सुनातीं,
हौले से हम को दुलारतीं.
.
मम्मी की आवाज़ में गातीं,
तब जाकर हैं हम सो पाते,
नन्हें – मुन्ने बच्चे हम,
पर कितने हैं सच्चे हम,
छोटी सी दुनिया हमारी,
मम्मी- पापा- दीदी- हम.
.
रवींद्र के कपूर
27 11 2016

152 Views
You may also like:
आंखों का वास्ता।
Taj Mohammad
खो गया है बचपन
Shriyansh Gupta
💐नाशवान् इच्छा एव पापस्य कारणं अविनाशी न💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
चुप ही रहेंगे...?
मनोज कर्ण
मज़ाक बन के रह गए हैं।
Taj Mohammad
कोहिनूर
Dr.sima
लूटपातों की हयात
AMRESH KUMAR VERMA
ज्यादा रोशनी।
Taj Mohammad
विश्व विजेता कपिल देव
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
✍️वो मील का पत्थर....!
"अशांत" शेखर
इन्तिजार तुम करना।
Taj Mohammad
वक्त अब कलुआ के घर का ठौर है
Pt. Brajesh Kumar Nayak
मृत्यु डराती पल - पल
Dr.sima
"मैंने दिल तुझको दिया"
Ajit Kumar "Karn"
उस पथ पर ले चलो।
Buddha Prakash
काफ़िर जमाना
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
हम जलील हो गए।
Taj Mohammad
बुजुर्गो की बात
AMRESH KUMAR VERMA
अभी बचपन है इनका
gurudeenverma198
इश्क़―की―आग
N.ksahu0007@writer
इश्क है यही।
Taj Mohammad
शिव स्तुति
अभिनव मिश्र अदम्य
लौटे स्वर्णिम दौर
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
छोड़कर ना जाना कभी।
Taj Mohammad
इश्क़ में क्या हार-जीत
N.ksahu0007@writer
पिता
कुमार अविनाश केसर
//स्वागत है:२०२२//
Prabhudayal Raniwal
उसको बता दो।
Taj Mohammad
बाबा भैरण के जनैत छी ?
श्रीहर्ष आचार्य
तुझसे रूठ कर
Sadanand Kumar
Loading...