Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Jul 2022 · 1 min read

हर हाल में ख़ुदी को

हर हाल में खुदी को मुकम्मल ए शाद कर लो ।
गर न मिले जमी तो आसमां तलाश कर लो।।

डाॅ फौज़िया नसीम शाद

4 Likes · 118 Views
You may also like:
✍️इतने महान नही ✍️
Vaishnavi Gupta
तुम मेरा दिल
Dr fauzia Naseem shad
सत्यमंथन
मनोज कर्ण
पितृ वंदना
मनोज कर्ण
गीत
शेख़ जाफ़र खान
*!* दिल तो बच्चा है जी *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
"वो पिता मेरे, मै बेटी उनकी"
रीतू सिंह
जिस नारी ने जन्म दिया
VINOD KUMAR CHAUHAN
जब गुलशन ही नहीं है तो गुलाब किस काम का...
लवकुश यादव "अज़ल"
टूटा हुआ दिल
Anamika Singh
दिल में
Dr fauzia Naseem shad
गीत- जान तिरंगा है
आकाश महेशपुरी
"मेरे पिता"
vikkychandel90 विक्की चंदेल (साहिब)
बाबासाहेब 'अंबेडकर '
Buddha Prakash
The Sacrifice of Ravana
Abhineet Mittal
कहां पर
Dr fauzia Naseem shad
अधूरी बातें
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
पिता हैं धरती का भगवान।
Vindhya Prakash Mishra
बेटियों की जिंदगी
AMRESH KUMAR VERMA
नदी की पपड़ी उखड़ी / (गर्मी का नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
ये दिल मेरा था, अब उनका हो गया
Ram Krishan Rastogi
आज अपना सुधार लो
Anamika Singh
टोकरी में छोकरी / (समकालीन गीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
यादों की बारिश का कोई
Dr fauzia Naseem shad
कुछ नहीं इंसान को
Dr fauzia Naseem shad
ठनक रहे माथे गर्मीले / (गर्मी का नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
आया रक्षाबंधन का त्योहार
Anamika Singh
इश्क कोई बुरी बात नहीं
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
तू नज़र में
Dr fauzia Naseem shad
✍️काश की ऐसा हो पाता ✍️
Vaishnavi Gupta
Loading...