Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

“हर घर तिरंगा”देश भक्ती गीत

ए सिर्फ तिरंगा नही, ए पहचान है हमारी।
ए सिर्फ तिरंगा नही,ए पहचान है हमारी।
गर्व से कहेंगे हम हैं हिन्दुस्तानी।
तिरंगा प्यारा , तिरंगा प्यारा -2

तीन रंग का है ए तिरंगा,भारत मां की शान।
हर रंग का अपना मतलब,है अपनी पहचान।
बोलो वन्दे मातरम……बोलो वन्दे मातरम बोलो
वन्दे मातरम…….वन्देमातरम……वन्देमातरम……

त्याग,शान्ति और सद्भावना,की है ये मिसाल ।
झंडा ऊंचा रहे हमारा सब मिल बोलो आज।
बोलो वन्देमातरम…बोलो वन्देमातरम…
वन्देमातरम……..वन्देमातरम……वन्देमातरम

भारत मां के जयकारों से , अब गूंजेगी दुनिया सारी।
वन्दे मातरम – वन्दे मातरम ,गाएगा हर नर नारी।।
घर घर में तिरंगा होगा, होगा जन-गण-मन का गान।
बोलो वन्दे मातरम..…बोलो वन्दे मातरम….
वन्देमातरम …….वन्देमातरम……..वन्देमातरम

शस्यश्यामलामं धरती हमारी,हमको प्राणों से प्यारी है।
इसके कण-कण में है छिपी ,अगणित वीरों की कहानी है।
अपने लहू का हर एक कतरा , कर दिया देश के नाम।
बोलो वन्देमातरम…..वन्देमातरम..…वन्देमातरम
बोलो वन्देमातरम..………
मां के कदमों में न्योछावर ,हम सबकी है जान।
नहीं सहेंगे हरगिज़ अब हम ,अपनी भारत मां का अपमान।

वन्दे मातरम….वन्दे मातरम…वन्देमातरम…
बोलो वन्दे मातरम …वन्दे मातरम …वन्दे मातरम।

रुबी चेतन शुक्ला
अलीगंज
लखनऊ

46 Views
You may also like:
भारत रत्न श्री नानाजी देशमुख (संस्मरण)
Ravi Prakash
मन सीख न पाया
Saraswati Bajpai
दरिया
Anamika Singh
दिल में उतरते हैं।
Taj Mohammad
पूँछ रहा है घायल भारत
rkchaudhary2012
यौवन अतिशय ज्ञान-तेजमय हो, ऐसा विज्ञान चाहिए
Pt. Brajesh Kumar Nayak
*मरने का हर मन में डर है (गीतिका)*
Ravi Prakash
ये जिंदगी ना हंस रही है।
Taj Mohammad
दर्द के रिश्ते
Vikas Sharma'Shivaaya'
दिल एक उम्मीद को तरसता है
Dr fauzia Naseem shad
अधूरापन
Harshvardhan "आवारा"
गर्दिशे दौरा को गुजर जाने दे
shabina. Naaz
ठनक रहे माथे गर्मीले / (गर्मी का नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
जिन्दगी और दर्द
Anamika Singh
'शशिधर'(डमरू घनाक्षरी)
Godambari Negi
प्यारा तिरंगा
ओनिका सेतिया 'अनु '
"अशांत" शेखर भाई के लिए दो शब्द -
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
✍️बात बात में..✍️
'अशांत' शेखर
सुन मेरे बच्चे !............
sangeeta beniwal
दिल ने
Anamika Singh
जय हिन्द जय भारत
Swami Ganganiya
सावन आया
HindiPoems ByVivek
मीठी-मीठी बातें
AMRESH KUMAR VERMA
काश ! तेरी निगाह मेरे से मिल जाती
Ram Krishan Rastogi
जोकर vs कठपुतली ~03
bhandari lokesh
रत्नों में रत्न है मेरे बापू
Nitu Sah
मिट्टी की कीमत
निकेश कुमार ठाकुर
दादी की कहानी
दुष्यन्त 'बाबा'
पैसे की महिमा
Ram Krishan Rastogi
भगवान विरसा मुंडा
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
Loading...