Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

हम बढ़ें शिखर की ओर….

मशाल ज्ञान की लिए हाथ में
हम चलें प्रगति की ओर !
अथक गति चरणों में भरकर
हम बढ़ें शिखर की ओर !

दें कुरूप को रूप सलोना
उजला हो घर का हर कोना !
दारिद्रय मिटे,समृद्ध बनें सब
बिखरा हो कण-कण में सोना !
छोटे पर कर्मठ हाथों से
हम छू लें नभ के छोर !
सुंदर मन,सत्य समन्वित ले
हम बढ़ें शिवम् की ओर !

अज्ञान तिमिर हर लें जग से
हम नन्हे-नन्हे दीप !
मोती-सी तरलता लिए हृदय में
हम दमकें जैसे सीप !
जीत हार में साथ रहें हम
थामे प्रीत की डोर !
मिट जाए तमस देश से
ले आएँ ऐसी भोर !

क्षुद्र स्वार्थ से ऊपर उठकर
देश-हित में कुछ काम करें
सारे जग में सबसे बढ़कर
देश का अपने नाम करें
उन्मुक्त निर्बाध उड़ें हम
संस्कारों की थामे डोर
बढ़ते जाएँ आगे प्रतिपल
ढीला कर दुश्मन का जोर !

– डा.सीमा अग्रवाल
मुरादाबाद (उ.प्र.)
“चाहत चकोर की” से

2 Likes · 2 Comments · 152 Views
You may also like:
'हाथी ' बच्चों का साथी
Buddha Prakash
रूला दे ये ज़िंदगी
Dr fauzia Naseem shad
तेरा पापा... अपने वतन में
Dr. Pratibha Mahi
कौन थाम लेता है ?
DESH RAJ
✍️मुकद्दर आजमाते है✍️
'अशांत' शेखर
Human Brain
Buddha Prakash
जब तुमने सहर्ष स्वीकारा है!
ज्ञानीचोर ज्ञानीचोर
है आया पन्द्रह अगस्त है।।
पाण्डेय चिदानन्द
धैर्य रखना सीखों
Anamika Singh
हर एक रिश्ता निभाता पिता है –गीतिका
रकमिश सुल्तानपुरी
कि राज दिल का उसको, कभी बता नहीं सके
gurudeenverma198
देह मिलन
Kavita Chouhan
पढ़ाई-लिखाई एक बोझ
AMRESH KUMAR VERMA
*रठौंडा मन्दिर यात्रा*
Ravi Prakash
न्याय
Vijaykumar Gundal
जीवन संगीत
Shyam Sundar Subramanian
एक मजदूर
Rashmi Sanjay
मेरे सनम
DESH RAJ
पिता एक सूरज
डॉ. शिव लहरी
सृजन कर्ता है पिता।
Taj Mohammad
ट्रेजरी का पैसा
Mahendra Rai
“ अमिट संदेश ”
DrLakshman Jha Parimal
ख़्वाब ताबीर
Dr fauzia Naseem shad
जब जब ही मैंने समझा आसान जिंदगी को
सत्य कुमार प्रेमी
✍️"एक वोट एक मूल्य"✍️
'अशांत' शेखर
ज्यादा रोशनी।
Taj Mohammad
जब चलती पुरवइया बयार
श्री रमण 'श्रीपद्'
बुद्ध धाम
Buddha Prakash
सफ़र में रहता हूं
Shivkumar Bilagrami
समय और रिश्ते।
Anamika Singh
Loading...