Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#10 Trending Author
Apr 30, 2022 · 1 min read

हम पे सितम था।

माना कि जो था वो मेरा वहम था।
पर जिन्दगी के लिए बड़ा अहम था।।

हमने तो रूह से मोहब्बत की थी।
जो तुमने किया वो हम पे सितम था।।

✍✍ताज मोहम्मद✍✍

126 Views
You may also like:
गणतंत्र दिवस
Aditya Prakash
ग़ज़ल
Awadhesh Saxena
धर्म बला है...?
मनोज कर्ण
मैं पिता हूं।
Taj Mohammad
हर साल क्यों जलाए जाते हैं उत्तराखंड के जंगल ?
Deepak Kohli
ये सियासत है।
Taj Mohammad
ऐ मेघ
सिद्धार्थ गोरखपुरी
💐💐परमात्मा इन्द्रियादिभि: परेय💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
Angad tiwari
Angad Tiwari
I Have No Desire To Be Found At Any Cost
Manisha Manjari
स्वर कोकिला
AMRESH KUMAR VERMA
✍️कही हजार रंग है जिंदगी के✍️
"अशांत" शेखर
उसको बता दो।
Taj Mohammad
विरह वेदना जब लगी मुझे सताने
Ram Krishan Rastogi
कर लो कोशिशें।
Taj Mohammad
ब्रेक अप
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
" मायूस धरती "
Dr Meenu Poonia
पानी
Vikas Sharma'Shivaaya'
राम नाम जप ले
Swami Ganganiya
* साम वेदना *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
वर्षा
Vijaykumar Gundal
✍️"सूरज"और "पिता"✍️
"अशांत" शेखर
ए बदरी
Dhirendra Panchal
# बारिश का मौसम .....
Chinta netam " मन "
आया सावन - पावन सुहवान
Rj Anand Prajapati
*अंतिम प्रणाम ..अलविदा #डॉ_अशोक_कुमार_गुप्ता* (संस्मरण)
Ravi Prakash
"सुनो एक सैर पर चलते है"
Lohit Tamta
परशुराम कर्ण संवाद
Utsav Kumar Aarya
भारत भाषा हिन्दी
शेख़ जाफ़र खान
【30】*!* गैया मैया कृष्ण कन्हैया *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
Loading...