Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
27 May 2016 · 1 min read

हमें जिद है…

लगी है ज़िद तुझे हर हाल में दिल में बसाने की….
मनाने की तुझे तेरी वफा को आजमाने की …

झुकाने को करे चाहे जमाना हर सितम हम पर
मगर अब ठान ली हमने जमाने को झुकाने की

तुम्हारे नाम पर जीना तुम्हारे नाम पर मरना..
फ़कत इतनी जरूरत है मे’रे इस दिल दिवाने की

ज़फा की आग सहने की हमें आदत बहुत है हाँ…
च़रागो को कहो जाकर न सोचें भी जलाने की

तिरी सोहबत में हम आश़की ही सीख पाये हैं..
सिखा दे यार हमको भी अदा तू दिल जलाने की

तुझे हमसे नहीं है आज माना प्यार थोड़ा भी ….
हमें भी आरजू है यार को अपना बनाने की.

रुकी सी हो गई धङकन बची ना सांस सीने में..
करी कोशिश कभी हमने तुम्हें जब भी भुलाने की

250 Views
You may also like:
कोई हिन्दू हो या मूसलमां,
Satish Srijan
जीने की कला
Shyam Sundar Subramanian
Book of the day: ख़्वाबों से हकीकत का सफर
Sahityapedia
नया दौर है सँभल
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
✍️हिसाब ✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
बाल-कविता: 'मम्मी-पापा'
आर.एस. 'प्रीतम'
मधमक्खी
Dr Archana Gupta
मैं भगतसिंह बोल रहा हूं...
Shekhar Chandra Mitra
*जातिवाद का खण्डन*
Dushyant Kumar
"छठ की बात"
पंकज कुमार कर्ण
अनूठी दुनिया
AMRESH KUMAR VERMA
✍️वो पलाश के फूल...!✍️
'अशांत' शेखर
कौन उठाए आवाज, आखिर इस युद्ध तंत्र के खिलाफ?
AJAY AMITABH SUMAN
*अटल जी की चौथी पुण्यतिथि पर भावपूर्ण श्रद्धांजलि*
Author Dr. Neeru Mohan
शत-शत नमन श्री केदारनाथ यजुर्वेदी "घट"
Ravi Prakash
*** सागर की लहरें........!!! ***
VEDANTA PATEL
अश्रुपात्र A glass of years भाग 8
Dr. Meenakshi Sharma
शिव स्तुति
Shivkumar Bilagrami
प्रेम में त्याग
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
मैं बड़ा या..?
सूर्यकांत द्विवेदी
होता है तेरी सोच का चेहरा भी आईना
Dr fauzia Naseem shad
डर होता है
Abhishek Pandey Abhi
■ आज की ग़ज़ल
*Author प्रणय प्रभात*
दुआओं की नौका...
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
करता है
सिद्धार्थ गोरखपुरी
बाबूजी
Kavita Chouhan
शिक्षक दिवस पर गुरुजनों को शत् शत् नमन 🙏🎉
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
हमने किस्मत से आँखें लड़ाई मगर
VINOD KUMAR CHAUHAN
'प्रेम' ( देव घनाक्षरी)
Godambari Negi
बात बोलेंगे
Dr. Sunita Singh
Loading...