Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Oct 23, 2016 · 1 min read

हद से बढ़ा

हाइकु :-

हद से बढ़ा !
वो सरहद पर !
आकर खड़ा !!

आज है भरा !
हमारे दुश्मन के !
पाप का घड़ा !!

है मिटाने का !
इस दिल में आज !
विश्वास बड़ा !!

बीज उसने !
दुश्मनी का था इस !
धरा पे गढ़ा !!

खाई कसम !
आज तुझे जहां से !
दे हम मिटा !!

– सोनिका मिश्रा

1 Like · 337 Views
You may also like:
सलाम
Shriyansh Gupta
लिखे आज तक
सिद्धार्थ गोरखपुरी
गीत -
Mahendra Narayan
आदमी आदमी से डरने लगा है
VINOD KUMAR CHAUHAN
लांगुरिया
Subhash Singhai
✍️जीवन की ऊर्जा है पिता...!✍️
"अशांत" शेखर
ऐ दिल सब्र कर।
Taj Mohammad
इश्क में बेचैनियाँ बेताबियाँ बहुत हैं।
Taj Mohammad
पिता - नीम की छाँव सा - डी के निवातिया
डी. के. निवातिया
पिता
Dr. Kishan Karigar
✍️✍️जूनून में आग✍️✍️
"अशांत" शेखर
आमाल।
Taj Mohammad
कामयाबी
डी. के. निवातिया
बहुत हुशियार हो गए है लोग
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
तजर्रुद (विरक्ति)
Shyam Sundar Subramanian
शून्य है कमाल !
Buddha Prakash
जंत्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
बहाना
Vikas Sharma'Shivaaya'
बेचारी ये जनता
शेख़ जाफ़र खान
माँ
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
बिल्ली हारी
Jatashankar Prajapati
सर्वप्रिय श्री अख्तर अली खाँ
Ravi Prakash
पुकार सुन लो
वीर कुमार जैन 'अकेला'
जरी ही...!
"अशांत" शेखर
समय
AMRESH KUMAR VERMA
✍️दो और दो पाँच✍️
"अशांत" शेखर
“NEW ABORTION LAW IN AMERICA SNATCHES THE RIGHT OF WOMEN”
DrLakshman Jha Parimal
खुशियों भरे पल
surenderpal vaidya
इन्तजार किया करतें हैं
शिव प्रताप लोधी
गर्मी का कहर
Ram Krishan Rastogi
Loading...