Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

“स्वप्न”

स्वप्न बेपरवाह होते हैं,
अनियमित होते हैं.
स्वप्न खंडित होते हैं,
रंगीन होते हैं.
स्वप्न कुछ तलाशते हैं,
और हम भटक जाते हैं.
मंजिल तक पहुँचने से पहले,
यथार्थ के धरातल पर पटक देते हैं.
मैंने भी कल एक स्वप्न देखा,
कुछ काला, कुछ रंगीन.
डूबती हुई कश्ती,
उड़ता हुआ पंक्षी.
नीला आसमान और,
मंदिर की घंटी.
जाने किस तलाश में , मैं भी भटकी,
तभी अचानक निद्रा टूटी.
स्वप्न-यथार्थ के मन्थन में,
आशाओं की लडियां छूटी.
…निधि…

194 Views
You may also like:
जीवन उर्जा ईश्वर का वरदान है।
Anamika Singh
सबसे बेहतर है।
Taj Mohammad
बेचारी ये जनता
शेख़ जाफ़र खान
मैं तुम्हारे स्वरूप की बात करता हूँ
gurudeenverma198
जुबान काट दी जाएगी - डी के निवातिया
डी. के. निवातिया
हे विधाता शरण तेरी
Saraswati Bajpai
आपातकाल
Shriyansh Gupta
ये जिंदगी ना हंस रही है।
Taj Mohammad
ऐ काश, ऐसा हो।
Taj Mohammad
मम्मी म़ुझको दुलरा जाओ..
Rashmi Sanjay
धरती माँ का करो सदा जतन......
Dr. Alpa H. Amin
महफिल अफसूर्दा है।
Taj Mohammad
शायद मुझसा चोर नहीं मिल सकेगा
gurudeenverma198
जैसा भी ये जीवन मेरा है।
Saraswati Bajpai
रूसवा है मुझसे जिंदगी
VINOD KUMAR CHAUHAN
💐💐प्रेम की राह पर-12💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
लड़ते रहो
Vivek Pandey
कमर तोड़ता करधन
शेख़ जाफ़र खान
✍️मैं परिंदा...!✍️
"अशांत" शेखर
मत ज़हर हबा में घोल रे
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
ग्रहण
ओनिका सेतिया 'अनु '
कायनात के जर्रे जर्रे में।
Taj Mohammad
We Would Be Connected Actually
Manisha Manjari
पावन पवित्र धाम....
Dr. Alpa H. Amin
✍️✍️लफ्ज़✍️✍️
"अशांत" शेखर
घुतिवान- ए- मनुज
AMRESH KUMAR VERMA
You Have Denied Visiting Me In The Dreams
Manisha Manjari
पुस्तक समीक्षा
Rashmi Sanjay
जब-जब देखूं चाँद गगन में.....
अश्क चिरैयाकोटी
बदरा कोहनाइल हवे
सन्तोष कुमार विश्वकर्मा 'सूर्य'
Loading...