Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#2 Trending Author
Aug 1, 2022 · 1 min read

सुरज से सीखों

सुरज कहता है देखो मै
कैसे दुर भगाता हूँ अँधियारा
बिना कोई छल कपट कियें
सब पर डालता हूँ ,
एक जैसा नजर फेरा।

न मेरे लिए कोई अपना है।
न मेरे लिए कोई पराया।
सब पर अपना तेज प्रकाश
मै एक जैसा फैलता हूँ।
खुद अपने को मै जलाकर
सब के जीवन रोशन करता हूँ।

रोशनी का मन मे संकल्प लेकर
मन मे दृढ निश्चय के साथ
चीरकर अँधेरे का दामन
मन मे एक विश्वास लेकर
हर सुबह मै तुम्हारे पास आता हूँ।

अपने उर्जा अपने संकल्प से
तुम्हें रोज मै सिखाता हूँ।
जीवन जीने के लिए अपने मन मे
दृढ़संकल्प और दृढनिशचय
मन मे होना चाहिए।
तब जाकर जीवन मे
हर सपने साकार होते है।

सुरज अपने कर्म पथ से
रोज हमें सिखाता है।
देखो कैसे मै प्रकृति की
हर विकृति से लड़ता हूँ।
चाहे अँधेरा हो या बादल
मै हार कभी नही मानता हूँ।

मै कर्म पथ पर
हर समय डिगा रहता हूँ
अपने अंदर की उर्जा से
हर मुश्किल पार कर जाता हूँ।
तुम भी चाहते हो अगर
हर मुश्किल को पार कर जाना।
अपने अन्दर की उर्जा को
सबसे पहले जरूरी है जगाना।

फिर देखो कैसे तेरे जीवन मे
कदम हमेशा जीत को छूती है
हार तेरा रास्ता कैसे
छोड़कर चली जाती है
देखो कैसे हर मुश्किल
तेरे सामने से छट जाती है।

अनामिका

5 Likes · 8 Comments · 112 Views
You may also like:
✍️आओ गुल गुलज़ार वतन करे✍️
'अशांत' शेखर
बरसात आई है
VINOD KUMAR CHAUHAN
ఎందుకు ఈ లోకం పరుగెడుతుంది.
Vijaykumar Gundal
मित्र
जगदीश लववंशी
वृक्ष बोल उठे..!
Prabhudayal Raniwal
संविधान की गरिमा
Buddha Prakash
जाति- पाति, भेद- भाव
AMRESH KUMAR VERMA
जैवविविधता नहीं मिटाओ, बन्धु अब तो होश में आओ
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
✍️कबीरा बोल...✍️
'अशांत' शेखर
पापा क्यूँ कर दिया पराया??
Sweety Singhal
रुतबा
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
अल्फाज़ ए ताज भाग-5
Taj Mohammad
ग़ज़ल
Mahendra Narayan
✍️ये जिंदगी कैसे नजर आती है✍️
'अशांत' शेखर
" सरोज "
Dr Meenu Poonia
आंखों में जब
Dr fauzia Naseem shad
कोई रिश्ता मुझे
Dr fauzia Naseem shad
साजिश अपने ही रचते हैं
gurudeenverma198
सार संभार
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
पिता
नवीन जोशी 'नवल'
मन की व्यथा।
Rj Anand Prajapati
कहाँ चले गए
Taran Singh Verma
*कभी मिलता नहीं होता (मुक्तक)*
Ravi Prakash
उफ ! ये गर्मी, हाय ! गर्मी / (गर्मी का...
ईश्वर दयाल गोस्वामी
सच्चे मित्र की पहचान
Ram Krishan Rastogi
मां-बाप
Taj Mohammad
सूरज काका
Dr Archana Gupta
पूरी करता घर की सारी, ख्वाहिशों को वो पिता है।
सत्य कुमार प्रेमी
कहते हैं न....
Varun Singh Gautam
'सनातन ज्ञान'
Godambari Negi
Loading...