Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Aug 21, 2021 · 1 min read

“सुबह की चाय”

बड़ी दिलचस्प कहानी है चाय की
कि शादी के अगले दिन ही जब पतिदेव ने
अपने हाथों से बनी चाय दी
तो उस चाय ने हर चाय को मात दी

पहले हमे पता थे चाय के प्रकार
मसाला,कड़क,अद्रक ना जाने क्या क्या

अब हमारी बेड टी के सिर्फ 3 प्रकार है

रात का झगड़ा सुबह तक बरकरार रखना है
ये बात उनकी चाय जाहिर कर देती हैं
अगले दिन हमे चाय मिलती ही नही है l
जो कहलाती है शून्य चाय

और उनको जब प्यार आता हम पर
तो कसम से लगता शक्कर बर्बाद कर दी चाय पर
ये कहलाती है प्यार वाली चाय

कभी कभी जब वो अकेले ही पी लेते है चाय
और कहते है तुम देर से सोई थी ना
तो तुमको उठाकर कौन आफत लाये
रुको अभी बना देता हूँ तुम्हारे लिए चाय
हम नही सुनते कुछ भी
हमें चाहिए वही वाली चाय
अब यही चाय बवाल चाय कहलाये

208 Views
You may also like:
मानव तन
Rakesh Pathak Kathara
पिता
Pt. Brajesh Kumar Nayak
चल-चल रे मन
Anamika Singh
तुम ही ये बताओ
Mahendra Rai
विरह की पीड़ा जब लगी मुझे सताने
Ram Krishan Rastogi
नींबू की चाह
Ram Krishan Rastogi
✍️आओ गुल गुलज़ार वतन करे✍️
"अशांत" शेखर
गीत -
Mahendra Narayan
बेसहारा हुए हैं।
Taj Mohammad
✍️✍️याद✍️✍️
"अशांत" शेखर
मोर के मुकुट वारो
शेख़ जाफ़र खान
"विहग"
Ajit Kumar "Karn"
बँटवारे का दर्द
मनोज कर्ण
बंदर मामा गए ससुराल
Manu Vashistha
उत्तर प्रदेश दिवस
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
पिता !
Kuldeep mishra (KD)
ये जमीं आसमां।
Taj Mohammad
हमदर्द कैसे-कैसे
Shivkumar Bilagrami
हवा के झोंको में जुल्फें बिखर जाती हैं
VINOD KUMAR CHAUHAN
एक संकल्प
Aditya Prakash
नवाब तो छा गया ...
ओनिका सेतिया 'अनु '
पिता हैं धरती का भगवान।
Vindhya Prakash Mishra
फरियाद
Anamika Singh
बूंद बूंद में जीवन है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
तुझे वो कबूल क्यों नहीं हो मैं हूं
Krishan Singh
उनकी आमद हुई।
Taj Mohammad
अवधी की आधुनिक प्रबंध धारा: हिंदी का अद्भुत संदोह
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
Crumbling Wall
Manisha Manjari
तोड़कर तुमने मेरा विश्वास
gurudeenverma198
थक गये हैं कदम अब चलेंगे नहीं
Dr Archana Gupta
Loading...