Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Jul 2016 · 1 min read

सुन री सखि

गीत

सुन मेरी सखी रात होने लगी
प्रेम की मौज होठों खिलने लगी

रात सूनी इच्छा सी जताने लगी
देह ज्यो सँजना मे समाने लगी

नैन हो बाबले चैन खोने लगे
आग सी सीसकी मे सूखाने लगी

यामिनी भाव में जाग सोने लगी
साँस में प्रीत की सी जमाने लगी

रात की रागिनी खो गुंजाने लगी
मोहिनी सी मधु मधूप की होने लगी

Dr. Madhu Trivedi

Language: Hindi
Tag: कविता
69 Likes · 465 Views
You may also like:
★HAPPY FATHER'S DAY ★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
यतींम
shabina. Naaz
बात होती है सब नसीबों की।
सत्य कुमार प्रेमी
कितने मादक ये जलधर हैं
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
केवल मृत्यु ही निश्चित है / (गीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
दोस्ती -ईश्वर का रूप
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
✍️हाथ के सारे तिरंगे ऊँचे लहराये..!✍️
'अशांत' शेखर
घनाक्षरी छंद
शेख़ जाफ़र खान
नियमन
Shyam Sundar Subramanian
*पुस्तक समीक्षा*
Ravi Prakash
विद्यालय
श्री रमण 'श्रीपद्'
गजल
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
जहां चाह वहां राह
ओनिका सेतिया 'अनु '
करो नहीं किसी का अपमान तुम
gurudeenverma198
मेरी पलकों पे ख़्वाब रहने दो
Dr fauzia Naseem shad
आई रे दिवाली रे
RAJA KUMAR 'CHOURASIA'
घर-घर में हो बाँसुरी
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
🌸🌼उनकी किस सादगी पर हम मचलते रहे🌼🌸
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
वेदना जब विरह की...
अश्क चिरैयाकोटी
आंख ऊपर न उठी...
Shivkumar Bilagrami
अब हार भी हारेगा।
Chaurasia Kundan
मज़हबी उन्मादी आग
Dr. Kishan Karigar
ईर्ष्या
Saraswati Bajpai
घर
पंकज कुमार कर्ण
दीये की बाती
सूर्यकांत द्विवेदी
तेरे मन मंदिर में जगह बनाऊं मै कैसे
Ram Krishan Rastogi
'एक सयानी बिटिया'
Godambari Negi
हम ना सोते हैं।
Taj Mohammad
बुंदेली दोहा- बिषय -अबेर (देर)
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
सपना
AMRESH KUMAR VERMA
Loading...