Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
26 Feb 2023 · 1 min read

💐प्रेम कौतुक-268💐

सुनो,कोई आवाज़ नहीं आई है अब तक,
देखो क्या?उन्हें साँस भी आई है अब तक।।

©®अभिषेक: पाराशरः “आनन्द”

Language: Hindi
77 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
पुस्तक
पुस्तक
AMRESH KUMAR VERMA
अनन्त तक चलना होगा...!!!!
अनन्त तक चलना होगा...!!!!
Jyoti Khari
राहतों की हो गयी है मुश्किलों से दोस्ती,
राहतों की हो गयी है मुश्किलों से दोस्ती,
Abhishek Shrivastava "Shivaji"
नारी एक कल्पवृक्ष
नारी एक कल्पवृक्ष
पंकज कुमार शर्मा 'प्रखर'
वक्त दर्पण दिखा दे तो अच्छा ही है।
वक्त दर्पण दिखा दे तो अच्छा ही है।
Renuka Chauhan
झुकाव कर के देखो ।
झुकाव कर के देखो ।
Buddha Prakash
स्मृति : गीतकार श्री किशन सरोज
स्मृति : गीतकार श्री किशन सरोज
Ravi Prakash
दोस्ती का तराना
दोस्ती का तराना
अभिषेक पाण्डेय 'अभि ’
जीने की चाहत है सीने में
जीने की चाहत है सीने में
Krishan Singh
मनमोहिनी प्रकृति, क़ी गोद मे ज़ा ब़सा हैं।
मनमोहिनी प्रकृति, क़ी गोद मे ज़ा ब़सा हैं।
कार्तिक नितिन शर्मा
छठ पर्व
छठ पर्व
सत्यम प्रकाश 'ऋतुपर्ण'
5
5"गांव की बुढ़िया मां"
राकेश चौरसिया
धूप कड़ी कर दी
धूप कड़ी कर दी
सिद्धार्थ गोरखपुरी
तुम बिन आवे ना मोय निंदिया
तुम बिन आवे ना मोय निंदिया
Ram Krishan Rastogi
प्रियवर
प्रियवर
लक्ष्मी सिंह
मुहब्बत का मसीहा:खलील जिब्रान
मुहब्बत का मसीहा:खलील जिब्रान
Shekhar Chandra Mitra
जीवन के कुरुक्षेत्र में,
जीवन के कुरुक्षेत्र में,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
💐💐 सूत्रधार 💐💐
💐💐 सूत्रधार 💐💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
बाल कहानी- गणतंत्र दिवस
बाल कहानी- गणतंत्र दिवस
SHAMA PARVEEN
दामन भी अपना
दामन भी अपना
Dr fauzia Naseem shad
■ मेरे एक प्रेरक
■ मेरे एक प्रेरक "चार्ली"
*Author प्रणय प्रभात*
चंद अल्फाज़।
चंद अल्फाज़।
Taj Mohammad
रिश्ते
रिश्ते
Harish Chandra Pande
माँ
माँ
Er. Sanjay Shrivastava
कब तक यही कहे
कब तक यही कहे
मानक लाल मनु
सनातन सँस्कृति
सनातन सँस्कृति
Bodhisatva kastooriya
"ये दुनिया बाजार है"
Dr. Kishan tandon kranti
भ्रूणहत्या
भ्रूणहत्या
Dr Parveen Thakur
पुतलों का देश
पुतलों का देश
DR. Kaushal Kishor Shrivastava
" भेड़ चाल कहूं या विडंबना "
Dr Meenu Poonia
Loading...