Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Aug 2016 · 1 min read

सिसकता बचपन

इन सड़कों पर सिसकता बचपन देखा मैंने,
फटे कपड़ों से झांकता तन बदन देखा मैंने।

अपनी छोटी सी इच्छाओं को मन में दबाकर,
झूठी मुस्कान बिखेरता मायूस मन देखा मैंने।

जिसे बचपन में खेलना चाहिए खिलोनों से,
उसे कागज़ बीन कर कमाते धन देखा मैंने।

विद्यालय, मदरसे में जा कर पढ़ने की जगह,
दुकानों में गंवाता अपना बालपन देखा मैंने।

साहब! ये किस्मत की नहीं गरीबी की मार है,
करके मजदूरी करता जीवन यापन देखा मैंने।

किताबों के झोले की जगह जिम्मेदारी उठाए,
गरीबी की मार से तड़पता जीवन देखा मैंने।

सुलक्षणा पता नहीं कब बदलेंगे हालात यहाँ,
गरीबी की आग में झुलसता वतन देखा मैंने।

©® डॉ सुलक्षणा अहलावत

2 Comments · 345 Views
You may also like:
कोशिश
Anamika Singh
बाल विवाह
Utkarsh Dubey “Kokil”
- दिल का दर्द किसे करे बयां -
bharat gehlot
बनेड़ा रै इतिहास री इक झिळक.............
लक्की सिंह चौहान
✍️नफरत की पाठशाला✍️
'अशांत' शेखर
लक्ष्मी बाई [एक अमर कहानी]
Dheerendra Panchal
सजनाँ बिदेशिया निठूर निर्मोहिया, अइले ना सजना बिदेशिया।
संजीव शुक्ल 'सचिन'
★HAPPY GANESH CHATURTHI★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
नया दौर है सँभल
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
गीत - याद तुम्हारी
Mahendra Narayan
शब्द को डायनामाइट बनाने वाला जीनियस: भगतसिंह
Shekhar Chandra Mitra
सृजनकरिता
DR ARUN KUMAR SHASTRI
कॉल
Seema 'Tu hai na'
महिला काव्य
AMRESH KUMAR VERMA
वर्तमान से वक्त बचा लो तुम निज के निर्माण में...
AJAY AMITABH SUMAN
భగ భగ మండే భగత్ సింగ్ రా!
विजय कुमार 'विजय'
तुलसी गीत
Shiva Awasthi
सपने जब पलकों से मिलकर नींदें चुराती हैं, मुश्किल ख़्वाबों...
Manisha Manjari
जिंदगी तुमसे जीना सीखा
Abhishek Pandey Abhi
मुँह इंदियारे जागे दद्दा / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
तुमसे इस तरह नफरत होने लगी
gurudeenverma198
*पत्रिका समीक्षा*
Ravi Prakash
بہت ہوشیار ہو گئے ہیں لوگ۔
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
'शशिधर'(डमरू घनाक्षरी)
Godambari Negi
मुस्कुराएं सदा
Saraswati Bajpai
इस तरह से
Dr fauzia Naseem shad
मुर्गा बेचारा...
मनोज कर्ण
Power of Brain
Nishant prakhar
किसकी तलाश है।
Taj Mohammad
प्रेमानुभूति भाग-1 'प्रेम वियोगी ना जीवे, जीवे तो बौरा होई।’
पंकज कुमार शर्मा 'प्रखर'
Loading...