Sep 10, 2016 · 1 min read

सियासी राग

सियासी राग गाया जा रहा है।
हमें उल्लू बनाया जा रहा है।।

गडे़ मुर्दे उखाडे़ जा रहे हैं।
मगर सच को दबाया जा रहा है।।

गरीबी को मिटा पाये नहीं तो।
गरीबों को मिटाया जा रहा है।।

जिन्होने देश पर हमले किये हैं।
चिकन उनको खिलाया जा रहा है।।

छिछौरे याद हैं सबको यहाँ पर।
शहीदों को भुलाया जा रहा है।।

अँधेरों की तरफदारी करें सब।
यहां “दीप”क बुझाया जा रहा है।।

प्रदीप कुमार “प्रदीप”

111 Views
You may also like:
पिता
Satpallm1978 Chauhan
तुम जो मिल गई हो।
Taj Mohammad
"जीवन"
Archana Shukla "Abhidha"
सजना शीतल छांव हैं सजनी
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
चूँ-चूँ चूँ-चूँ आयी चिड़िया
Pt. Brajesh Kumar Nayak
मृत्यु डराती पल - पल
Dr.sima
पिता
Shailendra Aseem
💐💐प्रेम की राह पर-11💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
बद्दुआ बन गए है।
Taj Mohammad
सागर बोला, सुन ज़रा
सूर्यकांत द्विवेदी
अश्रु देकर खुद दिल बहलाऊं अरे मैं ऐसा इंसान नहीं
VINOD KUMAR CHAUHAN
माँ पर तीन मुक्तक
Dr Archana Gupta
खड़ा बाँस का झुरमुट एक
Vishnu Prasad 'panchotiya'
आज की नारी हूँ
Anamika Singh
அழியக்கூடிய மற்றும் அழியாத
Shyam Sundar Subramanian
(स्वतंत्रता की रक्षा)
Prabhudayal Raniwal
चंदा मामा
Dr. Kishan Karigar
🌺🌺🌺शायद तुम ही मेरी मंजिल हो🌺🌺🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
हे पिता,करूँ मैं तेरा वंदन
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
"निरक्षर-भारती"
Prabhudayal Raniwal
पिता आदर्श नायक हमारे
Buddha Prakash
ऐ वतन!
Anamika Singh
महेनतकश इंसान हैं ... नहीं कोई मज़दूर....
Dr. Alpa H.
दिल्ली की कहानी मेरी जुबानी [हास्य व्यंग्य! ]
Anamika Singh
छीन लिए है जब हक़ सारे तुमने
Ram Krishan Rastogi
शादी से पहले और शादी के बाद
gurudeenverma198
माँ
आकाश महेशपुरी
सनातन संस्कृति
मनोज कर्ण
सच समझ बैठी दिल्लगी को यहाँ।
ananya rai parashar
जानें कैसा धोखा है।
Taj Mohammad
Loading...