#9 Trending Author

# सांग – सत्यवान-सावित्री # अनुक्रमांक- 2 # भवानी मात ज्वाला री, समरू देबी नाम तेरा, मंदिर मैं आज्या, माई दर्शन दिखा ।। टेक ।।

# सांग – सत्यवान-सावित्री # अनुक्रमांक- 2 #

भवानी मात ज्वाला री, समरू देबी नाम तेरा,
मंदिर मैं आज्या, माई दर्शन दिखा ।। टेक ।।

तू जगदम्बे शक्ति, बणी तु लक्ष्मी-ब्रह्मवती, पार्वती बण शिवजी मोहे,
माया मोहनी री, बणी चंदा की रोहणी, तू होणी बड़े-2 खोए,
टोहे मंदिर शिवाला री, पर्वत पै धाम तेरा,
मनै एक बर पाज्या, माई दर्शन दिखा ।।

बसी ब्रह्मा कै दिल पै री, रची थी सृष्टि जल पै री, कमल पै होई प्रकट आकै,
तेरे भक्ता मै भीड़ पड़ी, तू चंडी बणकै शेर चढ़ी, लड़ी थी दुष्टा तै जाकै,
तू ठा के कर मै भाला री, जब देख्या संग्राम तेरा,
असुरो का दल भाज्या, माई दर्शन दिखा ।।

तू दुर्गे सरस्वती, तू सै लक्ष्मी नार सती, पति भगवान टोह लिए री,
गिरजा रुद्राणी, गणेश की माता भवानी, वाणी शुद्ध बोलिए री,
खोलीए घट का ताला री, मीठा बोल मुलाम तेरा,
एक बर तू गाज्या, माई दर्शन दिखा ।।

लखमीचंद तेरा नाम रटै, तनै तै मांगेराम रटै, तमाम रटै दुनियादारी,
दूर कर दिल का अंधेरा, सभा मै मान राख मेरा, तेरा रहैगा पूजारी,
गाम लुहारी आला री, सेवक राजेराम तेरा,
सर पै हाथ टीकाज्या, माई दर्शन दिखा ।।

1 Like · 158 Views
You may also like:
मन बस्या राम
हरीश सुवासिया
The Magical Darkness
Manisha Manjari
आप कौन है
Sandeep Albela
पिता के होते कितने ही रूप।
Taj Mohammad
मन की उलझने
Aditya Prakash
رہنما مل گیا
अरशद रसूल /Arshad Rasool
वसंत
AMRESH KUMAR VERMA
श्रीराम गाथा
मनोज कर्ण
*ओ भोलेनाथ जी* "अरदास"
Shashi kala vyas
किस्मत एक ताना...
Sapna K S
!?! सावधान कोरोना स्लोगन !?!
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
*~* वक्त़ गया हे राम *~*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
अहसास
Vikas Sharma'Shivaaya'
परीक्षा को समझो उत्सव समान
ओनिका सेतिया 'अनु '
मां बाप की दुआओं का असर
Ram Krishan Rastogi
छद्म राष्ट्रवाद की पहचान
Mahender Singh Hans
माँ की याद
Meenakshi nagar Nagar
काव्य संग्रह से
Rishi Kumar Prabhakar
नेताओं के घर भी बुलडोजर चल जाए
Dr. Kishan Karigar
मुस्कुराहटों के मूल्य
Saraswati Bajpai
ख़ूब समझते हैं ghazal by Vinit Singh Shayar
Vinit Singh
जाने कैसी कैद
Saraswati Bajpai
सो गया है आदमी
कुमार अविनाश केसर
चुप ही रहेंगे...?
मनोज कर्ण
हिन्दुस्तान की पहचान(मुक्तक)
Prabhudayal Raniwal
आपकी तरहां मैं भी
gurudeenverma198
हम गीत ख़ुशी के गाएंगे
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
आ जाओ राम।
Anamika Singh
पिता की छाँव...
मनोज कर्ण
खुशियों की रंगोली
Saraswati Bajpai
Loading...