Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
12 Feb 2023 · 1 min read

💐अज्ञात के प्रति-75💐

साँसे ही नहीं तय करतीं जिन्दगी,
हम तो उन्हें देखते रहें देखते रहें।।

©®अभिषेक: पाराशरः ‘आनन्द’

Language: Hindi
38 Views
Join our official announcements group on Whatsapp & get all the major updates from Sahityapedia directly on Whatsapp.
You may also like:
दुआ
दुआ
डॉ प्रवीण ठाकुर
किसी औरत से
किसी औरत से
Shekhar Chandra Mitra
साहित्य - संसार
साहित्य - संसार
Shivkumar Bilagrami
मैं उसी पल मर जाऊंगा ,
मैं उसी पल मर जाऊंगा ,
श्याम सिंह बिष्ट
#मेरे_दोहे
#मेरे_दोहे
*Author प्रणय प्रभात*
मेरे पृष्ठों को खोलोगे _यही संदेश पाओगे ।
मेरे पृष्ठों को खोलोगे _यही संदेश पाओगे ।
Rajesh vyas
गंगा
गंगा
डॉ. रजनी अग्रवाल 'वाग्देवी रत्ना'
प्राणवल्लभा
प्राणवल्लभा
अभिषेक पाण्डेय ‘अभि ’
मजदूर दिवस पर
मजदूर दिवस पर
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
दोहे ( किसान के )
दोहे ( किसान के )
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
جستجو ءے عیش
جستجو ءے عیش
Ahtesham Ahmad
बिन मौसम बरसात
बिन मौसम बरसात
लक्ष्मी सिंह
बाप के ब्रह्मभोज की पूड़ी
बाप के ब्रह्मभोज की पूड़ी
नन्दलाल सिंह 'कांतिपति'
*फागुन कह रहा मन से( गीत)*
*फागुन कह रहा मन से( गीत)*
Ravi Prakash
💐अज्ञात के प्रति-90💐
💐अज्ञात के प्रति-90💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
विषय -घर
विषय -घर
rekha mohan
दर्पण में जो मुख दिखे,
दर्पण में जो मुख दिखे,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
राही
राही
RAKESH RAKESH
साँप ...अब माफिक -ए -गिरगिट  हो गया है
साँप ...अब माफिक -ए -गिरगिट हो गया है
सिद्धार्थ गोरखपुरी
ऐ जिंदगी....
ऐ जिंदगी....
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
प्रेम
प्रेम
Kanchan Khanna
परिवर्तन विकास बेशुमार
परिवर्तन विकास बेशुमार
Tarun Prasad
" सुर्ख़ गुलाब "
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
क्या मागे माँ तुझसे हम, बिन मांगे सब पाया है
क्या मागे माँ तुझसे हम, बिन मांगे सब पाया है
Anil chobisa
उसकी सूरत देखकर दिन निकले तो कोई बात हो
उसकी सूरत देखकर दिन निकले तो कोई बात हो
Dr. Shailendra Kumar Gupta
उम्मीदें
उम्मीदें
Dr. Kishan tandon kranti
"गणतंत्र दिवस"
पंकज कुमार कर्ण
ससुराल गेंदा फूल
ससुराल गेंदा फूल
Seema gupta,Alwar
चालें बहुत शतरंज की
चालें बहुत शतरंज की
surenderpal vaidya
क्या बात है फौजी
क्या बात है फौजी
Satish Srijan
Loading...