Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
2 May 2023 · 1 min read

सब अपनो में व्यस्त

सब अपनो में व्यस्त
रहा करते हैं
दूसरों की सुध कौन लेता है
यहाँ तो अपनो से ही लोग दूर रहते हैं@” परिमल “

267 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
अगर मुझसे मोहब्बत है बताने के लिए आ।
अगर मुझसे मोहब्बत है बताने के लिए आ।
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
तुम क्या जानो
तुम क्या जानो"
Satish Srijan
प्रेम
प्रेम
Kanchan Khanna
अबोध अंतस....
अबोध अंतस....
Santosh Soni
*सावन-भादो दो नहीं, सिर्फ माह के नाम (कुंडलिया)*
*सावन-भादो दो नहीं, सिर्फ माह के नाम (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
उम्मीद पूर्ण व सुखद जिंदगी
उम्मीद पूर्ण व सुखद जिंदगी
Aditya Prakash
मत भूलो देशवासियों.!
मत भूलो देशवासियों.!
Prabhudayal Raniwal
डर एवं डगर
डर एवं डगर
Astuti Kumari
पहाड़ी भाषा काव्य ( संग्रह )
पहाड़ी भाषा काव्य ( संग्रह )
श्याम सिंह बिष्ट
समक्ष
समक्ष
Dr. Rajiv
पैसे का खेल
पैसे का खेल
Shekhar Chandra Mitra
खूबसूरत है दुनियां _ आनंद इसका लेना है।
खूबसूरत है दुनियां _ आनंद इसका लेना है।
Rajesh vyas
मैं तेरा कृष्णा हो जाऊं
मैं तेरा कृष्णा हो जाऊं
bhandari lokesh
#ग़ज़ल-
#ग़ज़ल-
*Author प्रणय प्रभात*
विरह/बसंत
विरह/बसंत
लक्ष्मी सिंह
कैसे एक रिश्ता दरकने वाला था,
कैसे एक रिश्ता दरकने वाला था,
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
खुशी की तलाश
खुशी की तलाश
Sandeep Pande
तुम्हारे प्रश्नों के कई
तुम्हारे प्रश्नों के कई
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
If we could be together again...
If we could be together again...
Abhineet Mittal
पहाड़ की सोच हम रखते हैं।
पहाड़ की सोच हम रखते हैं।
Neeraj Agarwal
💐प्रेम कौतुक-389💐
💐प्रेम कौतुक-389💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
दोहे-
दोहे-
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
✍️
✍️"एक वोट एक मूल्य"✍️
'अशांत' शेखर
हाय रे ये क्या हुआ
हाय रे ये क्या हुआ
DR ARUN KUMAR SHASTRI
क्यों मैं इतना बदल गया
क्यों मैं इतना बदल गया
gurudeenverma198
आशिकी
आशिकी
साहिल
मैं तो महज इत्तिफ़ाक़ हूँ
मैं तो महज इत्तिफ़ाक़ हूँ
VINOD KUMAR CHAUHAN
जीवन की इतने युद्ध लड़े
जीवन की इतने युद्ध लड़े
ruby kumari
भारत वर्ष (शक्ति छन्द)
भारत वर्ष (शक्ति छन्द)
नाथ सोनांचली
मेरी आदत खराब कर
मेरी आदत खराब कर
Dr fauzia Naseem shad
Loading...