Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
27 May 2022 · 1 min read

सफलता की कुंजी ।

यह जीवन एक असुलझी पहेली है।
इससे मिलने वाले चुनौती को तुम
स्वीकार करो।
सुख और दुख दो जीवन के पहलू है,
इनका न तुम तिरस्कार करो।

अपनी अन्दर की कमी को टटलों
और खुद में तुम सुधार करो।
यह जीवन ईश्वर के द्वारा दिया गया
हम सबको एक वरदान है।
इसको तुम यूहीं नही बेकार करो।

माना जीवन मुश्किलों से भरी पड़ी है।
कठिनाई हमेंशा पग- पग पर खड़ी है।
इसे तुम अपना चुनौती समझो
और दिल से इसे स्वीकार करो।

हार न मानों इतनी इतनी जल्दी तुम
अपनी शक्ति का विस्तार करो।
हटों नही तुम कर्म क्षेत्र से अपने
लगातार तुम उस पर डटे रहो।

देते रहो जीवन में तुम कर्म को
नई उर्जा नई उमंग के साथ रफ्तार ।
फिर कहीं जाकर तुम्हें मिलेगा
इस जीवन मे सफलता का पुरस्कार।

~अनामिका

Language: Hindi
Tag: कविता
3 Likes · 4 Comments · 249 Views
You may also like:
आज काल के नेता और उनके बेटा
Harsh Richhariya
ओ परदेसी तेरे गांव ने बुलाया,
अनूप अंबर
गवाह है
shabina. Naaz
रानू रानाघाट की
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
कई शामें शामिल होकर लूटी हैं मेरी दुनियां /लवकुश यादव...
लवकुश यादव "अज़ल"
कुमार विश्वास
Satish Srijan
✍️वो अच्छे से समझता है ✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
आग का दरिया।
Taj Mohammad
एक सुबह की किरण
Deepak Baweja
💐💐तुम्हारे साथ की जरूरत है💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
अपना अपना आवेश....
Ranjit Tiwari
पोहा पर हूँ लिख रहा
Dr. Rajendra Singh 'Rahi'
जय अग्रसेन महाराज
Dr Archana Gupta
चाँद ......
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
"शौर्यम..दक्षम..युध्धेय, बलिदान परम धर्मा" अर्थात- बहादुरी वह है जो आपको...
Lohit Tamta
दूसरी सुर्पनखा: राक्षसी अधोमुखी
AJAY AMITABH SUMAN
ये हमारे कलम की स्याही, बेपरवाहगी से भी चुराती है,...
Manisha Manjari
प्रतिस्पर्धा
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
मैं हरि नाम जाप हूं।
शक्ति राव मणि
सब्र
Pratibha Kumari
ज़िंदगी पर लिखे शेर
Dr fauzia Naseem shad
उम्मीद नही छोड़ते है ये बच्चे
Anamika Singh
"शिक्षक तो बोलेगा"
पंकज कुमार कर्ण
सृजन की तैयारी
Saraswati Bajpai
क्या बताये वो पहली नजर का इश्क
N.ksahu0007@writer
मैथिलीमे चारिटा हाइकु
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
✍️सुलगता जलजला
'अशांत' शेखर
कुछ बात करो, कुछ बात करो
Shyam Sundar Subramanian
अश्वमेध का घोड़ा
Shekhar Chandra Mitra
*आर्य समाज जाति व्यवस्था में विश्वास नहीं करता*
Ravi Prakash
Loading...