Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
10 Jul 2022 · 1 min read

सपना आंखों में

सपना आंखों में सबके पलता है ।
कौन वक़्त का जवाब बनता है ।।
कौन दूसरों की मिसाले देता है ।
कौन अपनी मिसाल बनता है ।।

डाॅ फौज़िया नसीम शाद

Language: Hindi
Tag: शेर
9 Likes · 199 Views
You may also like:
आस्तीक भाग -तीन
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
लोग कहते हैं कैसा आदमी हूं।
सत्य कुमार प्रेमी
*"परिवर्तन नए पड़ाव की ओर"*
Shashi kala vyas
# निनाद .....
Chinta netam " मन "
मां शारदे को नमन
bharat gehlot
अंधेरी रातों से अपनी रौशनी पाई है।
Manisha Manjari
वक्त वक्त की बात है 🌷🌷
Dr. Akhilesh Baghel "Akhil"
बरसात में साजन और सजनी
Ram Krishan Rastogi
माँ के आँचल में छुप जाना
Dr Archana Gupta
बाबू जी
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
ऋतु
Alok Saxena
लश्क़र देखो
Dr. Sunita Singh
अराजकता का माहौल
Shekhar Chandra Mitra
किस किस को वोट दूं।
Dushyant Kumar
बिहार छात्र
Utkarsh Dubey “Kokil”
मजदूर.....
Chandra Prakash Patel
✍️✍️ये बौनी!आँखों से गोली मार रही है✍️✍️
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
स्वाभिमान से इज़हार
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
#करवा चौथ#
rubichetanshukla रुबी चेतन शुक्ला
शिव दोहा एकादशी
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
बाबा भैरण के जनैत छी ?
श्रीहर्ष आचार्य
मोहब्बत की दर्द- ए- दास्ताँ
साहित्य लेखन- एहसास और जज़्बात
✍️मगर क्रांति के अंत तक..
'अशांत' शेखर
अगर यह मुलाकात ऐसी ना होती
gurudeenverma198
जीवन में
Dr fauzia Naseem shad
सुरज और चाँद
Anamika Singh
सबेरा
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
शोख- चंचल-सी हवा
लक्ष्मी सिंह
सबसे बेहतर है।
Taj Mohammad
*देखो गर्म पारा है 【मुक्तक】*
Ravi Prakash
Loading...