Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 28, 2022 · 1 min read

सच्चाई का मार्ग

सच्चाई का मार्ग भव में
होता बड़ा ही क्लेशप्रद
इस पथ, डगर पे चलना
सबों की बस की वार्ता
न इस अतुल जहां में
कैसो कैसो को यहां
इस पंथ पर चलने में
श्रमसीकर छूट जाती
इस पर अर्थगर्भित तो
हजारों लाखों आएंगी
जो इन पर पाया विजय
उन्हीं को मिलती शिखर ।

सच्चाई का मार्ग सतत ही
होता आया कंटकाकीर्ण
बहुधा मानुष चंद धन हेतु
अपनाते निंद्य, त्याज्य राहें
पर इसी मार्ग पे ही चलते
जो इस उत्कृष्ट खलक में
उसको उसके करतूतों का
लाजिमी ही मिलता फल
निकृष्ट से संग होता मंदा
नायाब के संग तो उमदा
अतः सतत चले जग में
सच्चाई के मार्ग पर यहां ।

अमरेश कुमार वर्मा
जवाहर नवोदय विद्यालय बेगूसराय, बिहार

57 Views
You may also like:
मन की पीड़ा
Dr fauzia Naseem shad
✍️झूठ और सच✍️
'अशांत' शेखर
मतलबी
Gaurav Dehariya साहित्य गौरव
एक पत्र पुराने मित्रों के नाम
Ram Krishan Rastogi
पितृ नभो: भव:।
Taj Mohammad
पैसा
Kanchan Khanna
✍️✍️चुभन✍️✍️
'अशांत' शेखर
सावन आया
HindiPoems ByVivek
महिला काव्य
AMRESH KUMAR VERMA
मित्रों की दुआओं से...
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
जिन्दगी का मामला।
Taj Mohammad
★TIME IS THE TEACHER OF HUMAN ★
KAMAL THAKUR
'प्यारी ऋतुएँ'
Godambari Negi
तिरंगा
Pakhi Jain
वर्तमान से वक्त बचा लो तुम निज के निर्माण में...
AJAY AMITABH SUMAN
स्कूल का पहला दिन
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
जिज्ञासा
Rj Anand Prajapati
पर्यावरण बचा लो,कर लो बृक्षों की निगरानी अब
Pt. Brajesh Kumar Nayak
"पिता की क्षमता"
पंकज कुमार "कर्ण"
अपनी आदत में
Dr fauzia Naseem shad
शैशव की लयबद्ध तरंगे
Rashmi Sanjay
शादी
विनोद सिल्ला
लौट आते तो
Dr fauzia Naseem shad
धन-दौलत
AMRESH KUMAR VERMA
समझता है सबसे बड़ा हो गया।
सत्य कुमार प्रेमी
*श्री राजेंद्र कुमार शर्मा का निधन : एक युग का...
Ravi Prakash
✍️आत्मपरीक्षण✍️
'अशांत' शेखर
हे ! धरती गगन केऽ स्वामी...
मनोज कर्ण
ये नारी है नारी।
Taj Mohammad
मन के गाँव
Anamika Singh
Loading...