Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 16, 2021 · 1 min read

श्वांस

श्वांस ना रुक जाए,यूँ भयभीत हूँ
ज़िंदगी!तुम गद्य हो,मैं गीत हूँ।
इस जगत् में हम सदा संघर्ष ही करते रहे हैं
जीवन-अनल से,रोग से तो हम सदा लड़ते रहे हैं
तुम मेरे नवगीत हो और मैं ही तेरा मीत हूँ।
जी भर लड़ो मुझसे तुझे अफ़सोस ना रह जाए
मैं गीत हूँ तुम गद्य हो,तुम जीत मैं संगीत हूँ।
हार है किसके लिए,इस जीत का,उस हार का
जीव का जीवन सताकर, मृत्यु से भी प्यार का।
तुम प्रेम का सर्वस्व लेकर गद्य हो
मैं हारकर,सब कुछ लुटाकर पद्य हूँ
गर शब्द तेरे रस भरे हैं,मुझमे भी काफी जान है
तुम अंधेरे में छिपे हो,मेरी अलग पहचान है
तुम रीत हो लंबे समय से मैं तो जग का प्रीत हूँ
हँसते हँसाते गद्य हो तुम,मैं भावना का गीत हूँ।
श्वांस ना रुक जाए,यूँ भयभीत हूँ
ज़िंदगी!तुम गद्य हो मैं गीत हूँ।।
~~~~अनिल मिश्र,प्रकाशित

164 Views
You may also like:
✍️✍️शिद्दत✍️✍️
"अशांत" शेखर
वही मित्र है
Kavita Chouhan
नामालूम था नादान को।
Taj Mohammad
✍️ये भी इश्क़ है✍️
"अशांत" शेखर
You Have Denied Visiting Me In The Dreams
Manisha Manjari
तमाशाई बन गए हैं।
Taj Mohammad
पढ़ाई - लिखाई
AMRESH KUMAR VERMA
** भावप्रतिभाव **
Dr.Alpa Amin
क्या कुछ नहीं है मेरे पास
gurudeenverma198
【28】 *!* अखरेगी गैर - जिम्मेदारी *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
कभी मिलोगी तब सुनाऊँगा
मुन्ना मासूम
प्रतीक्षा के द्वार पर
Saraswati Bajpai
“ गोलू क जन्म दिन “
DrLakshman Jha Parimal
लगा हूँ...
Sandeep Albela
सबसे बेहतर है।
Taj Mohammad
तुम्हें डर कैसा .....
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
💐आत्म साक्षात्कार💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
कल कह सकता है वह ऐसा
gurudeenverma198
*पापा … मेरे पापा …*
Neelam Chaudhary
चिड़ियाँ
Anamika Singh
【31】*!* तूफानों से क्यों झुकना *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
उसके मेरे दरमियाँ खाई ना थी
Khalid Nadeem Budauni
चिन्ता और चिता में अन्तर
Ram Krishan Rastogi
परिणय
मनोज कर्ण
✍️मोहब्बत का सरमाया✍️
"अशांत" शेखर
जानें किसकी तलाश है।
Taj Mohammad
सारे निशां मिटा देते हैं।
Taj Mohammad
कातिल ना मिला।
Taj Mohammad
नया पड़ाव।
Kanchan sarda Malu
तुम्हारी चाय की प्याली / लवकुश यादव "अज़ल"
लवकुश यादव "अज़ल"
Loading...