श्रद्धान्जलि

मशहूर गायक जगजीत सिंहजी एवम् महान अभिनेता राजेश खन्नाजी के निधन पर श्रद्धांजलि स्वरुप लिखी गई मेरी कुछ पंक्तियाँ-

आज जाने क्यों ग़ज़ल उदास है,
मुहब्बत कहीं तन्हाईयों में सिसक रही,
सारे साजो की तबियत नासाज़ है,
और अल्फाज़ जाने कहाँ खो रहे है,,,,,,
खामोश हो जाओ दुनिया वालो,
जगजीत सो रहे है,
जगजीत सो रहे है,
जगजीत सो रहे है।।।।।।।।।।
***** *****
★राजेश खन्ना★
जिसकी हर मुस्कान एक कहानी थी,
अदाओं की दुनिया दीवानी थी,
जिसके ख़्वाब देख कलियाँ फूल हो गई,
आज वो देह मस्तक की धुल हो गई,
जाने कौनसा सितारा आज आसमान में नया होगा,
उस वक़्त ने न सोचा होगा ये शख़्स भी फना होगा,
न जाने कितनी आँखे चुपके से रोई होगी,
जवानी में जो उनकी तस्वीर लेकर सोई होगी।।।।।
**** ****

362 Views
You may also like:
अब तो इतवार भी
Krishan Singh
" मैं हूँ ममता "
मनोज कर्ण
पिया-मिलन
Kanchan Khanna
बूँद-बूँद को तरसा गाँव
ईश्वर दयाल गोस्वामी
सुख दुख
Rakesh Pathak Kathara
प्यार
Swami Ganganiya
रसिया यूक्रेन युद्ध विभीषिका
Ram Krishan Rastogi
आपस में तुम मिलकर रहना
Krishan Singh
I Have No Desire To Be Found At Any Cost
Manisha Manjari
नाम
Ranjit Jha
वृक्ष थे छायादार पिताजी
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
"मेरे पापा "
Usha Sharma
आजमाइशें।
Taj Mohammad
पानी
Vikas Sharma'Shivaaya'
हम भारत के लोग
Mahender Singh Hans
प्रयास
Dr.sima
ग़ज़ल
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
पितृ स्वरूपा,हे विधाता..!
मनोज कर्ण
सोने की दस अँगूठियाँ….
Piyush Goel
🍀🌺प्रेम की राह पर-44🍀🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
नीति के दोहे 2
Rakesh Pathak Kathara
पिता क्या है?
Varsha Chaurasiya
त्रिशरण गीत
Buddha Prakash
पिता का साथ जीत है।
Taj Mohammad
💐प्रेम की राह पर-27💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
पिता
Mamta Rani
अमर कोंच-इतिहास
Pt. Brajesh Kumar Nayak
निगाह-ए-यास कि तन्हाइयाँ लिए चलिए
शिवांश सिंघानिया
कहने से
Rakesh Pathak Kathara
रोग ने कितना अकेला कर दिया
Dr Archana Gupta
Loading...