Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#1 Trending Author #1 Trending Post
Apr 15, 2022 · 1 min read

“शौर्यम..दक्षम..युध्धेय, बलिदान परम धर्मा” अर्थात- बहादुरी वह है जो आपको युद्ध के लिए सक्षम बनाती है…🙏🏼

उसके हाथों में किसी और का हाथ था,
मेरे हाथों में ज़िंमेदारी का बोझ था,
उसकी शादी का दिन था,
मेरे पास नए ऑर्डर्स का पर्चा था,
वो किसी अपने की तलाश में थी,
मैं दुश्मन की तलाश में था,
वो ज़िन्दगी से लड़ रही थी,
मैं ज़िन्दगी के लिए लड़ रहा था,
वो दुल्हन सी सज रही थी,
मैं मौत के लिए सज्ज हो रहा था,
उसने कहा था तुम मतलबी बड़े हो, हाँ शायद सही थी वो, मैं अपने लिए नहीं अपने देश के लिए लड़ रहा था,
अफ़सोस नहीं मुझे उसे खोने का, क्योंकि मेरे पिता ने मुझे अपने आँखरी शब्दों में कहा था:-
“बलिदान परम धर्मा”
“लोहित टम्टा”

11 Likes · 12 Comments · 7660 Views
You may also like:
💐💐भौतिक: चिन्तनं व्यर्थ:💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
आप कौन से मुसलमान है भाई ?
ओनिका सेतिया 'अनु '
द माउंट मैन: दशरथ मांझी
Jyoti Khari
वेदना जब विरह की...
अश्क चिरैयाकोटी
पर्यावरण और मानव
मनमोहन लाल गुप्ता अंजुम
दहेज़
आकाश महेशपुरी
अब आगाज यहाँ
vishnushankartripathi7
दुआ पर लिखे अशआर
Dr fauzia Naseem shad
नख-शिख हाइकु
Ashwani Kumar Jaiswal
पैसों का खेल
AMRESH KUMAR VERMA
हर दिन इसी तरह
gurudeenverma198
थक गये हैं कदम अब चलेंगे नहीं
Dr Archana Gupta
दिल से रिश्ते निभाये जाते हैं
Dr fauzia Naseem shad
दीपावली,प्यार का अमृत, प्यार से दिल में, प्यार के अंदर...
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
आँखों में पूरा समंदर छिपाये बैठे है,
डी. के. निवातिया
इश्क की आग।
Taj Mohammad
पिता
अवध किशोर 'अवधू'
मिसाइल मैन
Anamika Singh
तुमसे कोई शिकायत नही
Ram Krishan Rastogi
ज़मीं पे रहे या फलक पे उड़े हम
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
समय भी कुछ तो कहता है
D.k Math { ਧਨੇਸ਼ }
शेर
Rajiv Vishal
किस क़दर।
Taj Mohammad
याद पर लिखे अशआर
Dr fauzia Naseem shad
तू अहम होता।
Taj Mohammad
बेटी को जन्मदिन की बधाई
लक्ष्मी सिंह
हे मात जीवन दायिनी नर्मदे हर नर्मदे हर नर्मदे हर
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
आओ तुम
sangeeta beniwal
इश्क में तुम्हारे गिरफ्तार हो गए।
Taj Mohammad
महाराष्ट्र की स्थिती
बिमल
Loading...