Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#12 Trending Author
Nov 13, 2021 · 1 min read

शून्य है कमाल !

1 से 9 तक गिनती सीखो,
शून्य मिले तो बिल्कुल मत रूठो,
शून्य बड़ा ही अद्भुत होता,
जब भी लग जाए संख्या के बाद,
बन जाता संख्या वह खास,
शून्य घटे तो ज्यो का त्यों,
शून्य जोड़ें तो कुछ बदलाव न होए,
गुणा शून्य से सब ‘शून्य (0)’ हो जाए,
भाग शून्य से अनंत हो जाए ,
पूर्ण संख्या शून्य ‘0’ से होते हैं ,
बचपन की गिनती 1 से शुरू होए,
रट-रट के दिमाग में संजोए ।


बुद्ध प्रकाश ,
मौदहा हमीरपुर ।

3 Likes · 167 Views
You may also like:
थक चुकी हूं मैं
Shriyansh Gupta
अजीब दौर हकीकत को ख्वाब लिखने लगे
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
मर्द को भी दर्द होता है
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
गिरते-गिरते - डी के निवातिया
डी. के. निवातिया
Two Different Genders, Two Different Bodies And A Single Soul
Manisha Manjari
कातिल ना मिला।
Taj Mohammad
कृपा कर दो ईश्वर
Anamika Singh
💐परमात्मा एव संसार-रूपेण प्रकट: भवति💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
पिता एक विश्वास - डी के निवातिया
डी. के. निवातिया
मुस्कुराइये.....
Chandra Prakash Patel
'तुम भी ना'
Rashmi Sanjay
"सावन-संदेश"
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
★HAPPY FATHER'S DAY ★
KAMAL THAKUR
अंतरराष्ट्रीय मित्रता पर दोहे
Ram Krishan Rastogi
हर इक वादे पर।
Taj Mohammad
✍️मै कहाँ थक गया हूँ..✍️
'अशांत' शेखर
तन्हा ही खूबसूरत हूं मैं।
शक्ति राव मणि
जीने का हुनर आता
Anamika Singh
विश्वेश्वर महादेव
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
💐 गुजरती शाम के पैग़ाम💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
बिल्ले राम
Kanchan Khanna
न कोई चाहत
Ray's Gupta
चिड़िया और जाल
DESH RAJ
✍️जिंदगी की सुबह✍️
'अशांत' शेखर
ग़ज़ल
Mahendra Narayan
#धरती-सावन
आर.एस. 'प्रीतम'
🌺परमात्प्राप्ति: स्वतः सिद्ध:,,✍️
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
सब खड़े सुब्ह ओ शाम हम तो नहीं
Anis Shah
ग़ज़ल
Awadhesh Saxena
पक्षियों से कुछ सीखें
Vikas Sharma'Shivaaya'
Loading...