Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
24 Feb 2023 · 1 min read

💐प्रेम कौतुक-243💐

शायद भाँप लिए,मेरे दिल की गहराई,
जायेंगे नहीं वो सिर्फ़ जाने की कहेंगे।।

©®अभिषेक: पाराशरः “आनन्द”

Language: Hindi
82 Views
Join our official announcements group on Whatsapp & get all the major updates from Sahityapedia directly on Whatsapp.
You may also like:
शब्द सारे ही लौट आए हैं
शब्द सारे ही लौट आए हैं
Ranjana Verma
अतिथि हूं......
अतिथि हूं......
Ravi Ghayal
💐प्रेम कौतुक-512💐
💐प्रेम कौतुक-512💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
"सच कहूं _ मानोगे __ मुझे प्यार है उनसे,
Rajesh vyas
मेरी चाहत
मेरी चाहत
umesh mehra
साहबजादे
साहबजादे
Satish Srijan
बड़ा गुरुर था रावण को भी अपने भ्रातृ रूपी अस्त्र पर
बड़ा गुरुर था रावण को भी अपने भ्रातृ रूपी अस्त्र पर
सुनील कुमार
जिन्दगी में फैसले अपने दिमाग़ से लेने चाहिए न कि दूसरों से पू
जिन्दगी में फैसले अपने दिमाग़ से लेने चाहिए न कि दूसरों से पू
अभिनव अदम्य
"तुम्हारे रहने से"
Dr. Kishan tandon kranti
■ प्रकाशित आलेख
■ प्रकाशित आलेख
*Author प्रणय प्रभात*
समँदर को यकीं है के लहरें लौटकर आती है
समँदर को यकीं है के लहरें लौटकर आती है
'अशांत' शेखर
दमके क्षितिज पार,बन धूप पैबंद।
दमके क्षितिज पार,बन धूप पैबंद।
Neelam Sharma
राष्ट्रभाषा
राष्ट्रभाषा
Prakash Chandra
इन बादलों की राहों में अब न आना कोई
इन बादलों की राहों में अब न आना कोई
VINOD KUMAR CHAUHAN
*हे महादेव आप दया के सागर है मैं विनती करती हूं कि मुझे क्षम
*हे महादेव आप दया के सागर है मैं विनती करती हूं कि मुझे क्षम
Shashi kala vyas
मोहब्बत
मोहब्बत
AVINASH (Avi...) MEHRA
मत पूछो मेरा कारोबार क्या है,
मत पूछो मेरा कारोबार क्या है,
Vishal babu (vishu)
" माँ का आँचल "
DESH RAJ
तेज दौड़े है रुके ना,
तेज दौड़े है रुके ना,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
हृद्-कामना....
हृद्-कामना....
डॉ.सीमा अग्रवाल
सालगिरह
सालगिरह
अंजनीत निज्जर
ह्रदय की कसक
ह्रदय की कसक
Dr. Rajiv
हमें अब राम के पदचिन्ह पर चलकर दिखाना है
हमें अब राम के पदचिन्ह पर चलकर दिखाना है
Dr Archana Gupta
जीवन के मोड़
जीवन के मोड़
Ravi Prakash
अनजान लड़का
अनजान लड़का
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
मृदुलता ,शालीनता ,शिष्टाचार और लोगों के हमदर्द बनकर हम सम्पू
मृदुलता ,शालीनता ,शिष्टाचार और लोगों के हमदर्द बनकर हम सम्पू
DrLakshman Jha Parimal
भगतसिंह मरा नहीं करते
भगतसिंह मरा नहीं करते
Shekhar Chandra Mitra
जब तक हयात हो
जब तक हयात हो
Dr fauzia Naseem shad
आज़ाद पंछी
आज़ाद पंछी
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
तुम्हें अकेले चलना होगा
तुम्हें अकेले चलना होगा
अभिषेक पाण्डेय ‘अभि ’
Loading...