Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#11 Trending Author
Apr 29, 2022 · 1 min read

शर्म-ओ-हया

शर्म-ओ-हया का पहनो लिबास
ये दुनिया हैं दो रंगी मेरे यार…
बनाएंगी हजारों बातें…फिर…
होंगी बदनामी… जो …सह नहीं पाओगे…
फिर…. कैसे रहोंगे यार….!!!!!

79 Views
You may also like:
सत् हंसवाहनी वर दे,
Pt. Brajesh Kumar Nayak
पिता घर की पहचान
vivek.31priyanka
कैसे समझाऊँ तुझे...
Sapna K S
एक शख्स सारे शहर को वीरान कर जाता हैं
Krishan Singh
प्यार भरे गीत
Dr.sima
अल्फाज़ ए ताज भाग-3
Taj Mohammad
पुकार सुन लो
वीर कुमार जैन 'अकेला'
आ सजाऊँ भाल पर चंदन तरुण
Pt. Brajesh Kumar Nayak
चश्मे-तर जिन्दगी
Dr. Sunita Singh
हिंदी
Pt. Brajesh Kumar Nayak
जीवन की सौगात "पापा"
Dr. Alpa H. Amin
मंजिल की उड़ान
AMRESH KUMAR VERMA
अपराधी कौन
Manu Vashistha
समय ।
Kanchan sarda Malu
जिसके सीने में जिगर होता है।
Taj Mohammad
सुन री पवन।
Taj Mohammad
हाइकु:(कोरोना)
Prabhudayal Raniwal
पिता पच्चीसी दोहावली
Subhash Singhai
प्रेरक संस्मरण
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
I Can Cut All The Strings Attached
Manisha Manjari
खस्सीक दाम दस लाख
Ranjit Jha
साँप की हँसी होती कैसी
AJAY AMITABH SUMAN
भगत सिंह का प्यार था देश
Anamika Singh
कला के बिना जीवन सुना ..
ओनिका सेतिया 'अनु '
[ कुण्डलिया]
शेख़ जाफ़र खान
पानी कहे पुकार
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
क्या क्या हम भूल चुके है
Ram Krishan Rastogi
Accept the mistake
Buddha Prakash
" सामोद वीर हनुमान जी "
Dr Meenu Poonia
रात चांदनी का महताब लगता है।
Taj Mohammad
Loading...